'ऐसा लगता है कि मैं औऱ सचिन एक-दूसरे के दुश्मन हो गए हैं'

  • 'ऐसा लगता है कि मैं औऱ सचिन एक-दूसरे के दुश्मन हो गए हैं'
You Are HereSports
Thursday, November 21, 2013-12:02 PM

नई दिल्ली: मास्टर ब्लास्टर और क्रिकेट के भगवान भारत रत्न सचिन तेंदुलकर और पूर्व टेस्ट क्रिकेटर विनोद कांबली अपने खेल के शुरुआती दिनों से ही बहुत ही क्लोज फ्रैंड जाने जाते हैं। कांबली ने चौंकाने वाली बात का खुलासा किया है।

उन्होंने कहा, 'पिछले सात वर्षों से मेरी और सचिन की मुलाकात नहीं हुई है। इसका मुझे काफी दुख है कि मैंने लंबे समय से सचिन की आवाज नहीं सुनी है। उनकी आवाज सुने हुए सात वर्ष बीत गए हैं। हम सात वर्षों से एक-दूसरे से नहीं मिले हैं। इन सात वर्षों में हम दोनों के बीच सिर्फ कुछ एसएमएस का आदान-प्रदान हुआ है बस इतना ही। अब ऐसा लगता है कि हम दोनों एक-दुसरे के दुश्मन हो गए हैं।'

हालांकि, कांबली ने कहा, 'जब मैंने 16 नवंबर को सचिन को विदाई टेस्ट में पिच पर रोते हुए देखा तो मुझे बहुत बुरा लगा और दोस्त को वानखेड़े में रोते हुए देख मेरे आंखों से भी आंसू निकल आए।'

गौरतलब है कि सचिन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया है। उन्होंने अपना अंतिम मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला। सचिन ने परिवार के सदस्यों, दोस्तों, टीम के साथियों समेत सभी को धन्यवाद कहा। सचिन ने अपने अतिम मैच में यादगार भाषण दिया, लेकिन पूरे भाषण में सचिन ने कहीं भी अपने बचपन के दोस्त विनोद कांबली का जिक्र नहीं किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You