IPL से ग्लैमर नहीं खेल सीखें: द्रविड़

  • IPL से ग्लैमर नहीं खेल सीखें: द्रविड़
You Are HereSports
Sunday, December 01, 2013-2:42 PM

नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने युवा खिलाडिय़ों को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से ग्लैमर और पैसे का आकर्षण नहीं बल्कि खेल की बारीकियां सीखने की नसीहत दी है।

भारतीय टीम को अपनी कप्तानी में अंडर 19 विश्वकप दिलाने वाले उन्मुक्त चंद की किताब ‘स्कोई इज द लिमिट’ के रिलीज के मौके पर द्रविड़ ने कहा कि आईपीएल युवा प्रतिभाओं के लिए एक बेहतरीन मंच है जो उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाडिय़ों के साथ खेलने का मौका देता है। इस मौके पर द्रविड के साथ पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर भी मौजूद थे।

द्रविड़ ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि आईपीएल एक बेहतरीन मंच है और खिलाडिय़ों को इससे खेल की बारीकियां सीखकर उसका  इस्तेमाल प्रथम श्रेणी क्रिकेट में करना चाहिये और उसके ग्लैमकर और पैसे जैसे आकर्षण से विचलित होने से बचना चाहिए।’’
 
टीम इंडिया की दीवार के नाम से मशहूर पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘आईपीएल युवाओं के लिये बेहतरीन मौका है। इसके जरिए उन्हें दुनियाभर के बेहतरीन खिलाडिय़ों के साथ ड्रेसिंग रूप साझा करने का मौका मिलता है। वे उनसे बहुत कुछ सीख सकते हैं। इसके जरिए भारत के लिये खेलने से पहले उन्हें हजारों दर्शकों की भीड़ के सामने खेलने का अनुभव भी प्राप्त होता है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You