‘करो या मरो’ के मुकाबले में उतरेगी टीम इंडिया

  • ‘करो या मरो’ के मुकाबले में उतरेगी टीम इंडिया
You Are HereSports
Saturday, December 07, 2013-1:19 PM

डरबन: लगातार छह वन डे सीरीज जीतकर बुलंद हौसलों के साथ दक्षिण अफ्रीका पहुंची टीम इंडिया को पहले वन डे में 141 रन की करारी शिकस्त का सामना करना पडा और अब उसे तीन मैचों की सीरीज में अपनी संभावनाएं बनाए रखने के लिए रविवार को होने वाले दूसरे वन डे में जीत के कम कुछ भी मंजूर नहीं होगा। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला के निधन के बाद इस सीरीज को लेकर असमंजस की स्थिति बन गई थी लेकिन सरकार ने इसे पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जारी रखने की पुष्टि की है।

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट (सीएसए) ने यह सीरीज मंडेला को समर्पित की है। जहां तक पहले वन डे का सवाल है तो इस मैच में टीम इंडिया ने निराशाजनक प्रदर्शन किया। कहीं से भी यह नहीं लगा कि यह वही टीम है तो लगातार छह वन डे सीरीज जीतकर आई है। दुनिया की नंबर एक टीम है और विश्व विजेता है। भारतीय गेंदबाजों की जहां जमकर धुनाई हुई वहीं भारतीय के मजबूत बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों के सामने पनाह मांगते नजर आए। रनों के अंबार लगाने वाले भारत के शीर्षक्रम के तीन
बल्लेबाज रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली सस्ते में निपट गए। युवराज सिंह खाता भी नहीं खोल पाए और सुरेश रैना भी 14 रन बनाकर चलते बने।

जीत के लिए 359 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 217 पर ढेर हो गई। इसमें से अगर कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के 65 रन निकाल लें तो बाकी बल्लेबाजों में कुल जमा 152 रन बनाए। यह वही टीम है जिसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू वन डे सीरीज में दो बार 350 रन से अधिक के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था, लेकिन दक्षिण अफ्रीका की स्तरीय गेंदबाजी के सामने भारत के मजबूत बल्लेबाजी क्रम की कलई खुल गई। धोनी के अलावा बाकी सभी बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों में सामने संघर्ष करते नजर आए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You