जन्म प्रमाण पत्र के आधार पर खिलाडिय़ों की आयु तय हो: अदालत

  • जन्म प्रमाण पत्र के आधार पर खिलाडिय़ों की आयु तय हो: अदालत
You Are HereSports
Sunday, December 29, 2013-1:21 PM

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को निर्देश दिया है कि वह जन्म प्रमाण पत्र के आधार पर खिलाडिय़ों की उम्र तय करे या फिर विश्वसनीय दस्तावेजी साक्ष्य की गैरमौजूदगी में आयु के निर्धारण के लिए वैज्ञानिक तरीका अपनाए। अधिक आयु के कारण बीसीसीआई द्वारा अंडर 16 क्रिकेट टूर्नामेंट में खेलने से रोके गए यश सहरावत और आर्यन सहरावत की याचिका स्वीकार करते हुए न्यायमूर्ति वीके जैन ने टेनर वाइटहाउस 3 (टीडब्ल्यू3) तरीके को खारिज कर दिया जिसका इस्तेमाल बीसीसीआई ने टूर्नामेंट में आयु निर्धारण के लिए किया था।

अदालत ने बीसीसीआई को निर्देश दिया कि वह दस्तावेजों की वास्तविकता और विश्वसनीयता की पुष्टि करे जिसे याचिकाकर्ता ने अपने जन्म तिथि के साक्ष्य के रूप में जमा कराया है। अदालत ने इसकी पुष्ट करने के लिए बोर्ड को चार हफ्ते का समय दिया है। अदालत ने कहा, ‘‘अगर पुष्टि करने पर प्रतिवादी (बीसीसीआई और दिल्ली जिला क्रिकेट संघ) को पता चलता है कि दस्तावेज वास्तविक हैं तो वे याचिकाकर्ता की जन्म तिथि को अपने डाटाबेस में रिकार्ड करे और इसी के आधार पर उन टूर्नामेंट में उनके खेलने पर विचार करें जिसमें भाग लेने के वे पात्र हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You