सोच्चि ओलंपिक में तिरंगे के तले नहीं उतर पाएंगे भारतीय एथलीट

  • सोच्चि ओलंपिक में तिरंगे के तले नहीं उतर पाएंगे भारतीय एथलीट
You Are HereSports
Wednesday, January 08, 2014-2:39 PM

नई दिल्ली: भारतीय एथलीटों के लिए अगले माह रूस के सोच्चि में आयोजित होने वाले ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में भारतीय तिरंगे के तहत खेल पाने का सपना फिलहाल पूरा होता दिखाई नहीं दे रहा है। मीडिया रिपोर्टो के अनुसार निलंबित भारतीय ओलपिंक संघ (आईओए) सोच्चि ओलंपिक शुरू होने के बाद नौ फरवरी तक नए सिरे से चुनाव कराने पर विचार कर रहा है। ऐसे में भारतीय खिलाड़ी इन खेलों में अपने देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर पाऐंगे और स्वतंत्र खिलाडिय़ों के तौर पर उतरेंगे।

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने दिसंबर 2012 में आईओए को चुनावों में पारदर्शिता नहीं बरतने और दागी अधिकारियों को चुनने पर प्रतिबंधित कर दिया था। हालांकि गत वर्ष आईओसी ने नए सिरे से चुनाव कराने के आईओसी के निर्देशों का पालन करने पर सहमति जताई थी। लेकिन आईओए ने सात दिसंबर से शुरू हो रहे सोच्चि गेम्स से पूर्व चुनाव कराने की खेल मंत्रालय की अपील को खारिज कर दिया है। ऐसे में साफ है कि चुनाव नहीं होने तक आईओए पर प्रतिबंध जारी रहेगा और इससे भारतीय एथलीट तिरंगे के तहत खेलों में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।

इससे पहले 10 दिसंबर को आईओसी के अध्यक्ष थामस बाक ने भी साफ किया था कि यदि सात फरवरी से पूर्व भारतीय ओलंपिक संघ चुनाव नहीं कराता है तो गेम्स के लिए क्वालिफाई कर चुके भारतीय एथलीटों को ‘स्वतंत्र’ माना जाएगा। दूसरी ओर आईओए के सूत्रों के अनुसार ‘आईओए का चुनाव नौ फरवरी को कराने का निर्णय गत माह विशेष आम सभा बैठक में लिया जा चुका है। यदि इसकी तारीख में कोई परिवर्तन कराया जाना है तो इसके लिए एक और बैठक करनी होगी।’ हाल ही में जापान में आयोजित एशिया कप में रजत पदक जीतने वाले शिवा केशवन के अलावा हीरा लाल, हिमांशू ठाकुर और नदीम इकबाल तीन अन्य भारतीय एथलीट हैं जो सोच्चि गेम्स के लिए क्वालिफाई कर चुके हैं। इस बीच कई एथलीटों ने भी ओलंपिक में अपने देश का प्रतिनिधित्व नहीं कर पाने पर निराशा व्यक्त की है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You