हाकी रैंकिंगः आस्ट्रेलिया बना नंबर वन, भारत सातवें स्थान पर

  • हाकी रैंकिंगः आस्ट्रेलिया बना नंबर वन, भारत सातवें स्थान पर
You Are HereSports
Sunday, January 19, 2014-6:21 PM

नई दिल्लीः विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया हाकी वर्ल्ड लीग फाइनल टूर्नामेंट में बेशक चौथे स्थान पर रहा लेकिन वह एफआईएच रैंकिंग में विश्व की नंबर एक टीम जर्मनी को अपदस्थ कर चोटी के स्थान पर पहुंच गया जबकि मेजबान भारत इस टूर्नामेंट में अपने छठे स्थान के प्रदर्शन की बदौलत सातवें नंबर पर आ गया। एफआईएच ने अपने इस टूर्नामेंट के लिए रैंकिंग अंक निर्धारित किए थे जिसमें चैंपियन बनने पर 400 अंक, दूसरे स्थान के लिए 350, तीसरे के लिए 325, चौथे के लिए 300, पांचवें के लिए 280, छठे के लिए 260, सातवें के लिए 240 और आठवें स्थान के लिए 220 रैंकिंग अंक दिए जाने थे।

इस टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ओलंपिक चैंपियन जर्मनी 2140 अंकों के साथ पहले, विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया 2083 अंकों के साथ दूसरे और ओलंपिक रजत विजेता हालैंड 1920 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर था। भारत 1435 अंकों के साथ दसवें स्थान पर था। एफआईएच ने हाकी वर्ल्ड लीग फाइनल शुर होने से पहले एक बयान जारी कर बताया था कि इस टूर्नामेंट में टीमों को रैंकिंग अंक दिए जाएंगे और ये रैंकिंग अंक इस वर्ष मई-जून में हालैंड में होने वाले विश्वकप के लिए टीमों की रैंकिंग को निर्धारित करने में मददगार साबित होंगे। जर्मनी की टीम आश्चर्यजनक रूप से सातवें स्थान पर रही और उसे 240 अंक मिले।

जर्मनी के मौजूदा समय में 2380 रैंकिंग अंक बनते हैं जबकि आस्ट्रेलिया 300 रैंकिंग अंक मिलने से 2383 पर पहुंच गया है। आस्ट्रेलिया ने इस तरह मात्र तीन अंकों से जर्मनी को पछाडकर नंबर एक स्थान हासिल कर लिया है। जर्मनी की टीम दूसरे स्थान पर खिसक गई है। चैंपियन बने हालैंड को 400 अंक मिले और वह 2320 अंकों के साथ अपने तीसरे स्थान पर कायम है। भारत को विश्व की नम्बर एक टीम और ओलंपिक चैम्पियन जर्मनी को टूर्नामेंट में 5-4 से हराने से 260 अंकों का फायदा हुआ और वह 1695 अंकों के साथ सातवें स्थान पर पहुंच गया है। टूर्नामेंट में तीसरे नंबर पर इंग्लैंड को 325 अंक मिले और 2050 अंकों के साथ अपने चौथे स्थान पर कायम है। पांचवें नंबर पर रही बेल्जियम की टीम को 280 अंक मिले और 1958 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर बना हुआ है।

फाइनल में हालैंड से हारने वाली न्यूजीलैंड की टीम को 350 अंक मिले और वह एक स्थान उठकर छठे नंबर पर पहुंच गई है। न्यूजीलैंड के अब 1930 अंक हो गए हैं। भारत सातवें स्थान पर पहुंच गया है जबकि कोरिया (1645) दो स्थान गिरकर आठवें नंबर पर आ गया है। टूर्नामेंट में आठवें स्थान पर रही अर्जेंटीना को 220 अंक मिले और वह 1630 अंकों के साथ नौवें स्थान पर आ गई है। स्पेन (1490) और पाकिस्तान (1490) दो-दो स्थान खिसककर क्रमश: दसवें और 11वें नंबर पर पहुंच गए हैं। भारत सात साल बाद विश्व रैंकिंग में सातवें स्थान पर पहुंचा है। 

वर्ष 2003 में विश्व रैंकिंग की शुरआत होने के बाद से भारत आखिरी बार 2006 में सातवें स्थान पर रहा था। वह इसके बाद नौंवे से 12वें स्थान के बीच ही झूलता रहा था। भारत की सबसे खराब रैंकिंग 2009 में 12वां स्थान रही थी। लेकिन अब वह सातवें स्थान पर पहुंच रहा है। एफआईएच ने विश्वकप के लिए पहले से ही निर्धारित कर दिया है कि 12 टीमों को दो पूल में बांटा जाएगा और रैंकिंग के हिसाब से छह-छह टीमें अलग-अलग पूल में रहेंगी। एफआईएच जब विश्वकप कार्यक्रम की घोषणा करेगा तब रैंकिंग के हिसाब से दोनों पूलों की टीमों का निर्धारण किया जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You