न्यूजीलैंड के खिलाफ अपनी खोई प्रतिष्ठा बचाने मैदान में उतरेगा भारत

  • न्यूजीलैंड के खिलाफ अपनी खोई प्रतिष्ठा बचाने मैदान में उतरेगा भारत
You Are HereSports
Thursday, January 30, 2014-12:41 PM

वेलिंगटन: श्रृंखला गंवाने के बाद भारतीय खिलाडिय़ों का मनोबल गिरा हुआ है लेकिन फिर भी टीम कल यहां पांचवें और अंतिम वनडे में आत्मविश्वास से भरी न्यूजीलैंड के खिलाफ दौरे की अपनी पहली जीत दर्ज कर खोई प्रतिष्ठा बचाने को बेताब होगी। भारतीय टीम ने पिछले दो हफ्तों में 0-3 से श्रृंखला हारकर अपना वनडे रैंकिंग का शीर्ष स्थान भी गंवा दिया।

मेहमान टीम नेपियर में पहले वनडे में 24 रन से, फिर हैमिल्टन में 15 रन से हार गई। आकलैंड में तीसरा मैच टाई रहा लेकिन हैमिल्टन में चौथे में टीम सात विकेट की शिकस्त से श्रृंखला गंवा बैठी।  कल वेस्टपैक स्टेडियम में टीम प्रतिष्ठा से कहीं अधिक के लिए खेलेगी क्योंकि सांत्वना जीत का मतलब होगा कि श्रृंखला 3-1 से समाप्त होगी, 4-0 से नहीं क्योंकि दौरे पर एक भी मैच नहीं जीतना भारत के लिए शर्मनाक होगा।

महेंद्र सिंह धोनी और उनकी टीम जब से दिसंबर में देश से निकली है, चीजें काफी खराब रही हैं इसलिये मौजूदा विश्व चैम्पियन के लिये यह जीत थोड़ा सम्मान भी बनाए रखेगी। तब से सात वनडे में टीम ने एक भी मैच नहीं जीता है। टीम को पांच में हार मिली, एक मैच टाई रहा और एक का परिणाम नहीं निकला। करीब दो महीनों में वे सभी प्रारूपों में अब अपनी पहली जीत दर्ज करना चाहते हैं तो उन्हें श्रृंखला गंवाने वाले परिणाम के बारे में सोचने के बजाय पांचवें वनडे पर ही सारा ध्यान लगाना होगा।

चौथा वनडे श्रृंखला को जीवंत बनाये रखने के लिये काफी अहम था लेकिन भारतीय टीम खरी नहीं उतरी और वापसी करने की कोशिश में उन्होंने कई बदलाव किए और उनमें से ज्यादातर इच्छानुरूप काम नहीं कर सके। अगर वेलिंगटन वनडे को एक मैच का मुकाबला समझा जाता है तो टीम का थिंक टैंक उन विभिन्न मुद्दों को निपटाने में सफल होगा जो यहां और इससे पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पिछली दो सीमित ओवरों की श्रृंखला में उभरे हैं। कई सवाल हैं जिनके जवाब दिये जाने की जरूरत है और हमेशा की तरह ये शीर्ष से शुरू होते हैं।

चौथा वनडे गंवाने के बाद प्रतिक्रिया में धोनी ने खिलाडिय़ों को आराम देने और उन्हें उनके खेल के बारे में सोचने की जरूरत के बारे में कहा था, इस तरह उन्होंने शिखर धवन और सुरेश रैना को बाहर किये जाने के फैसले को सही ठहराया। धोनी ने टीम प्रबंधन का ‘अंजिक्य रहाणे को मध्यक्रम में खिलाते रहने’ का फैसला भी बताया था और कि ‘विराट कोहली को क्रम में उपर भेजना’ एक चीज थी। लेकिन यह बल्लेबाजी क्रम बुरी तरह विफल रहा जिससे धवन को फिर से शीर्ष स्थान पर उतारा जा सकता है। यहां यह बात भी दीगर है कि रोहित शर्मा अंतत: फार्म में आ गये, उन्होंने पिछले मैच में 79 रन की अहम पारी खेली।

टीमें इस प्रकार हैं:
भारत
महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान,विकेटकीपर), शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली, अंजिक्य रहाणे, सुरेश रैना, अम्बाती रायुडू, स्टुअर्ट बिन्नी, रविंद्र जडेजा, आर अश्विन, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, ईश्वर पांडे, वरूण आरोन, अमित मिश्रा।

न्यूजीलैंड
 ब्रैंडन मैकुलम (कप्तान), कोरी एंडरसन, मार्टिन गुप्टिल, मिशेल मैक्लेनाघान, नाथन मैकुलम, काइल मिल्स, जेम्स नीशम, ल्यूक रोंची (विकेटकीपर), जेसी राइडर, टिम साउथी, रास टेलर, केन विलियम्सन, हामिश बेनेट और मैट हैनरी।

मैच भारतीय समयानुसार सुबह साढ़े छह बजे शुरू होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You