एशिया कप : रोचक होगी भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत

  • एशिया कप : रोचक होगी भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत
You Are HereSports
Sunday, March 02, 2014-1:32 AM

मीरपुर (ढाका): एशिया कप के 12वें संस्करण का सबसे रोमांचक और चिर प्रतिक्षित मुकाबला आज मीरपुर में खेला जाएगा। दोनों टीमें एक-एक मैच जीत चुकी हैं और एक-एक मैच में दोनों की हार हुई है। ऐसे में यह मुकाबला दोनों टीमों के लिए सेमीफाइनल सरीखा है। जो जीतेगा, वह खिताब की ओर कदम बढ़ाएगा। भारत ने अपने पहले मैच में बांग्लादेश को हराया था। उस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शतक लगाया था और इस टीम ने अपने युवा कप्तान की देखरेख में प्रभावशाली प्रदर्शन किया था। श्रीलंका के हाथों भारत की हार ने उसके आगे के सफर पर सवालिया निशान लगा दिया लेकिन भारतीय टीम अच्छा खेलकर हारी।

दूसरी ओर, पाकिस्तान को अपने पहले मुकाबले में श्रीलंका के हाथों हार मिली थी लेकिन उसने अफगानिस्तान को अपने दूसरे मुकाबले में हराकर इसकी भरपाई करने को कोशिश की। भारत को हराने की सूरत में उसका खिताब बचाने का अभियान थोड़ा आसान हो जाएगा क्योंकि आगे उसे बांग्लादेश से भिडऩा है और मेजबान टीम को हराना उसके लिए कठिन काम नहीं होगा। भारत और पाकिस्तान का मुकाबला चाहे किसी भी स्तर पर हो, उसका रोमांच अलग होता है। फातुल्लाह में क्रिकेट का उत्सव खत्म हो चुका है और अब आगे का उत्सव मीरपुर में चलेगा। मीरपुर और ढाका वासी भाग्यशाली हैं कि उन्हें दो चिर प्रतिद्वंद्वियों के बीच का हाई वोल्टेज मुकाबला देखने को मिलेगा।

बहुत समय से जब भी भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होता रहा तो उसे भारतीय बल्लेबाजों और पाकिस्तानी गेंदबाजों के बीच की जंग बताया गया लेकिन इस बार हालात कुछ बदले हुए हैं। भारतीय बल्लेबाजी क्रम अनुभव के लिहाज से बहुत आगे नहीं है और न ही पाकिस्तानी आक्रमण पंक्ति बहुत अधिक जान रखती है। इस बार भारतीय टीम का पलड़ा थोड़ा भारी नजर आता है क्योंकि पाकिस्तान का मध्यक्रम उसकी तुलना में कम अनुभव वाला है और गेंदबाज भी बहुत अधिक अनुभवी नहीं हैं। सईद अजमल और उमर गुल को छोड़ दें तो सभी गेंदबाज लगभग नए हैं और भारत के खिलाफ कम ही खेले हैं।

दूसरी ओर, भारतीय गेंदबाज भी पाकिस्तानी बल्लेबाजों के लिए नए हैं और इस लिहाज से भारतीय कप्तान मीरपुर की अपेक्षाकृत तेज पिच पर वरुण एरॉन जैसे तेज गेंदबाज को उतार सकते हैं, जिन्हें श्रीलंका के खिलाफ नहीं खिलाया गया था। मीरपुर में भारत और पाकिस्तान के बीच अंतिम मुकाबला मार्च 2012 में हुआ था। वह भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का अंतिम एक दिवसीय मैच था।

सचिन अब क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं। हां, हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा मीरपुर में (खेलने की स्थिति में) अपना 100वां एकदिवसीय मैच खेलेंगे। मीरपुर में हुई आखिरी भिड़ंत में सचिन ने 52 रन बनाए थे और कोहली ने 183 रनों की बेमिसाल पारी खेली थी। कोहली के तूफानी शतक की बदौलत भारत ने 330 रनों का लक्ष्य 13 गेंदें शेष रहते हासिल कर लिया था। रोहित शर्मा ने 68 रन बनाए थे। अब ये दोनों खिलाड़ी उस मैच की याद को एक बार फिर ताजा करते हुए अपनी टीम को जीत दिलाना चाहेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You