सपोर्ट स्टाफ के साथ विश्वकप तक नहीं होनी चाहिए छेड़छाड़: द्रविड

  • सपोर्ट स्टाफ के साथ विश्वकप तक नहीं होनी चाहिए छेड़छाड़: द्रविड
You Are HereSports
Saturday, March 15, 2014-4:31 PM

मुंबई: टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने डंकन फ्लेचर को कोच पद से हटाए जाने की तेज होती मांग के बीच कहा है कि फ्लेचर सहित सपोर्ट स्टाफ को अगले साल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में होने वाले विश्वकप तक बरकरार रखा जाना चाहिए। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने फ्लेचर की जगह द्रविड़ को टीम इंडिया का कोच बनाने का सुझाव दिया था लेकिन खुद द्रविड़ अभी इसके लिए तैयार नहीं हैं। लेकिन 41 वर्षीय द्रविड़ ने शुक्रवार को एक प्रमोशनल कार्यकल में कहा ‘विश्व कप एक वर्ष दूर है और मुझे नहीं लगता कि टीम के सपोर्ट स्टाफ में कोई परिवर्तन होना चाहिए। उन्हें चार वर्ष का समय दिया जाना चाहिए। विश्व कप से पहले ऐसे परिवर्तन करने का कोई फायदा नहीं।’

समय की कमी कारण नहीं बन सकता भारत का कोच : द्रविड़

गावस्कर के सुझाव के बारे में उन्होंने कहा ‘मेरे लिए यह गर्व और खुशी की बात है कि गावस्कर ने कहा कि मैं यह काम करने के लिए सक्षम हूं, लेकिन इस काम के लिए काफी समय की जरुरत होगी। साल में करीब 11 महीने। मैंने अभी तो सन्यास लिया है और इस वक्त मेरे पास समय भी नहीं है। इसलिए मुझे इंकार करना पडेगा।’ हालांकि द्रविड़ ने भविष्य में इस पद को संभालने की संभावना से इंकार नहीं किया। उन्होंने कहा ‘मैं इस वर्ष आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के मेंटर की भूमिका में रहूंगा और कौन जानता है कि भविष्य में क्या होगा।’

इस बीच भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी कहा है कि उसकी फ्लेचर को पद से हटाने की कोई योजना नहीं है। बोर्ड के सचिव संजय पटेल ने कहा कि बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन ने गुरुवार को फ्लेचर से मुलाकात की थी लेकिन इस दौरान उन्हें कोच पद से हटाए जाने के बारे में कोई बात नहीं हुई।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You