आनंद ने एक दौर शेष रहते कैंडिडेट्स टूर्नामेंट जीता

  • आनंद ने एक दौर शेष रहते कैंडिडेट्स टूर्नामेंट जीता
You Are HereSports
Sunday, March 30, 2014-12:26 PM

रूस: पांच बार के विश्व चैम्पियन भारत के विश्वनाथन आनंद ने सभी आलोचकों को गलत साबित करते हुए 13वें दौर में रूस के सर्जेई कार्जाकिन को ड्रॉ पर रोककर कैंडिडेट्स शतरंज टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। आनंद को कल के आराम के दिन का पूरा लाभ मिला और आज वह पूरी तरह तैयार थे। उन्होंने कर्जाकिन के साथ साढ़े पांच घंटे से अधिक समय तक मुकाबला खेला।

इस ड्रॉ से आनंद के आठ अंक हो गए हैं और उन्होंने टूर्नामेंट के सबसे बड़े उलटफेर का फायदा मिला जब शीर्ष वरीय आर्मेनिया के लेवोन आरोनियन को रूस के दिमित्री आंद्रेकिन के हाथों शिकस्त का सामना करना पड़ा। अन्य बाजियों में व्लादिमीर क्रैमनिक ने बुल्गारिया के वेसलिन टोपालोव के खिलाफ हार का बदला चुकता करते हुए जीत दर्ज की जबकि अजरबेजान के शखरियार मामेदयारोव ने रूस के पीटर स्विडलर के साथ ड्रा खेला।

कल अंतिम दौर में की बाजियों के अब चाहे जो भी नतीजे रहे आनंद टूर्नामेंट जीत चुके हैं। आनंद के आठ अंक हैं। कर्जाकिन, क्रैमनिक, मामेदयारोव, आंद्रेकिन और आरोनियन 6.5 अंक के साथ संयुक्त दूसरे स्थान पर चल रहे हैं। पीटर स्विडलर छह अंक के साथ सातवें जबकि टोपालोव 5.5 अंक के साथ अंतिम स्थान पर हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You