फाइनल मैच में उतरते ही धोनी के नाम हो जाएगा एक और रिकॉर्ड

  • फाइनल मैच में उतरते ही धोनी के नाम हो जाएगा एक और रिकॉर्ड
You Are HereSports
Wednesday, May 17, 2017-7:59 PM

नई दिल्ली: टी-20 लीग के इतिहास के सबसे सफल कप्तान और पुणे के विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के कल मैदान में उतरते ही एक और रिकार्ड बन जाएगा। धोनी 21 मई को लीग का रिकार्ड सातवां फाइनल खेलने उतरेंगे। धोनी ने बीते कल मुंबई में मुंबई इंडियंस के खिलाफ पांच छक्कों से सजी नाबाद 40 रन की पारी खेली थी जिसकी बदौलत पुणे की टीम पहली बार आईपीएल फाइनल में पहुंचने में कामयाब रही। धोनी का यह सातवां आईपीएल फाइनल होगा।  पूर्व भारतीय कप्तान धोनी आईपीएल के पहले आठ संस्करणों में चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के कप्तान रहे थे और उन्होंने 2010 और 2011 में अपनी टीम को चैंपियन बनाया था। उनकी कप्तानी में चेन्नई की टीम चार बार उपविजेता भी रही। 

चेन्नई के बाद पुणे के बने थे कप्तान
धोनी गत वर्ष आईपीएल की नयी टीम पुणे के कप्तान बने थे। चेन्नई को दो साल के लिये निलंबित किये जाने के बाद धोनी को पुणे टीम का कप्तान चुना गया था।  मौजूदा सत्र में पुणे टीम प्रबंधन ने धोनी को कप्तानी से हटाकर आस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ को नया कप्तान बनाया। धोनी के शुरूआती फार्म और स्मिथ की शुरूआती बेहतरीन पारी पर पुणे के टीम मालिक के भाई ने कुछ ऐसी टिप्पणी की थी जिससे धोनी के प्रशंसक भड़क उठे थे। हालांकि यह विवाद फिर ठंडा पड़ गया। धोनी ने अपने कैप्टन कूल अंदाज में खेलते हुये मुंबई को उसी के वानखेड़े स्टेडियम में ध्वस्त कर दिया। एक समय जब लग रहा था कि पुणे की टीम 140 तक नहीं पहुंच पायेगी कि तभी धोनी ने आखिरी दो ओवरों में चार छक्के उड़ाते हुये नाबाद 40 रन ठोक डाले। उनके ये प्रहार अंत में निर्णायक साबित हुये। पुणे ने 162 रन बनाने के बाद 20 रन से यह मैच जीत लिया।  

खेल चुके हैं 18 प्लेआफ मैच 
पूर्व कप्तान धोनी अब तक आईपीएल में 18 प्लेआफ मैच खेल चुके हैं और 11 अवसरों पर वह विजयी भी रहे हैं। मुंबई इंडियन्स के खिलाफ उनका आठ मैचों में पांच जीत का रिकार्ड भी हो गया है। 14.50 करोड़ के बेन स्टोक्स के स्वदेश लौट जाने के बाद पुणे को एक मैच विजेता खिलाड़ी की तलाश थी और धोनी ने अपनी सर्वश्रेष्ठ फिनिशर वाली भूमिका को निभाया। इस मैच में अर्धशतक बनाने वाले मनोज तिवारी ने भी मैच के बाद कहाÞ 19वें और 20वें ओवर में एमएस भाई ने जबरदस्त शॉट््स खेले। जसप्रीत बुमराह के सामने ऐसे शाट््स खेलना आसान नहीं था लेकिन धोनी ने दिखाया कि वह किसी भी गेंदबाज को पीटने की क्षमता रखते हैं।Þ  मुंबई के विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने भी कहाÞ बुमराह को धोनी के खिलाफ काफी सफलता मिली है। उन्होंने यहां पिछले मैच में धोनी को आउट भी किया था। लेकिन जब धोनी पूरे मूड में हों तो उन्हें रेाकना आसान नहीं होता है।Þ 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You