गेंदबाजी को लेकर अश्विन के बचाव को उतरे गांगुली और जडेजा

  • गेंदबाजी को लेकर अश्विन के बचाव को उतरे  गांगुली और जडेजा
You Are HereOther Games
Saturday, November 12, 2016-12:44 PM

नई दिल्ली: रविंद्र जडेजा ने आज अच्छा प्रदर्शन नहीं करने वाले आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का बचाव करते हुए कहा कि इंग्लैंड के सभी विकेट हासिल करने की जिम्मेदारी केवल तमिलनाडु के इस गेंदबाज की ही नहीं है।  एससीए स्टेडियम में पहले दो दिन स्पिनरों को बहुत अधिक मदद नहीं मिली। अश्विन ने 46 ओवरों में 167 रन देकर दो विकेट लिए। इंगलैंड ने जो रूट, मोईन अली और बेन स्टोक्स के शतकों की मदद से 537 रन बनाए।  

विकेट लेना केवल अश्विन की जिम्मेदारी नहीं : जडेजा  
जडेजा ने कहा, ‘‘हमारे पास 5 गेंदबाज हैं और विकेट लेने की जिम्मेदारी केवल अश्विन की नहीं बल्कि सभी 5 गेंदबाजों की है। कई बार मौके गंवा दिए जाते हैं लेकिन ये सभी खेल का हिस्सा हैं। सभी समान रूप से जिम्मेदार हैं। भारत के सभी पांच गेंदबाजों में जडेजा का विश्लेषण सबसे अच्छा रहा। उन्होंने 30 ओवरों में 86 रन देकर 3 विकेट लिये लेकिन उन्होंने दूसरे दिन केवल नौ ओवर किये।  इस बारे में जब इस स्थानीय खिलाड़ी से पूछा गया तो उन्होंने इसे खास तवज्जो नहीं दी।  जडेजा ने कहा, ‘‘यह कप्तान की सोच थी। टीम के दृष्टिकोण से इसके पीछे उनके कुछ कारण रहे होंगे। मुझे नहीं लगता कि अश्विन और अमित मिश्रा को जानबूझकर अधिक गेंदबाजी देने की उनकी कोई रणनीति नहीं थी। 

अश्विन से हमेशा 5 विकेट की उम्मीद नहीं करें : गांगुली

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का मानना है कि भारत के तीनों तेज गेंदबाजों उमेश यादव, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी को अपना खेल बेहतर करना होगा क्योंकि दमदार प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ अच्छी पिचों पर रविचंद्रन अश्विन या रविंद्र जडेजा से हमेशा 5 विकेट की उम्मीद नहीं की जा सकती है। गांगुली ने कहा कि पहले दिन की पिच इस (राजकोट जैसी) तरह की होती है। ऐसे में तेज गेंदबाजों की भूमिका अहम हो जाती है। इसलिए मैं भारत में अच्छी पिचों पर खेलने की वकालत करता रहा हूं ताकि आपको यह सीखने को मिले कि विदेशी पिचों पर कैसे खेलना है। इस पूर्व कप्तान ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका (2015) और आस्ट्रेलिया (2013) के खिलाफ भारत जिन पिचों पर खेला वे ‘माइनफील्ड’ (अधूरी पिचों के लिए उपयोग किया जाने वाला शब्द) की तरह थी।  उन्होंने कहा कि इसके साथ ही कहा कि अश्विन के लिये नियमित तौर पर पांच विकेट हासिल करना असंभव है।  गांगुली ने कहा कि हम दक्षिण अफ्रीका से खेले। 4 टैस्ट हमने माइनफील्ड्स में खेले और इससे कुछ मदद नहीं मिली। यदि भारत अच्छी पिचों पर 5 टैस्ट मैच खेलता है तथा अनिल कुंबले शमी, यादव और इशांत को रखते हैं और वे पहले 3 विकेट लेते हैं तो भारत बेहतर टीम बनेगा। क्योंकि आप रविचंद्रन अश्विन या रविंद्र जडेजा पर एक अच्छी बल्लेबाजी टीम के खिलाफ सपाट पिच पर 5 विकेट की उम्मीद नहीं कर सकते हो। वे एक या दो बार ऐसा कर सकते हैं लेकिन लगातार ऐसा करना उनके लिए संभव नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You