मॉस्को फीडे ग्रांड प्रिक्स शतरंज : हरिकृष्णा नें पकड़ी वापसी की राह

You Are HereSports
Wednesday, May 17, 2017-1:18 PM

मॉस्को ,रूस ( निकलेश जैन ) जब आपके सामने आपके जीवन का सबसे बड़ा मौका हो जिसके लिए आपने हमेशा मेहनत की हो और वो मौका आते ही आप अपने स्तर से भी नीचे का प्रदर्शन कर रहे हो ऐसे में खुद पर भरोसा रखते हुए वापसी करना है एकमात्र रास्ता होता है और दरअसल विजेता बनने का यही एक तय पैमाना है । भारत के ग्रांड मास्टर पी हरीकृष्णा जिनके लिए उनके जीवन की पहली फीडे ग्रांड प्रिक्स में उनका शुरुआती चार राउंड में प्रदर्शन बेहद निराशाजनक चल रहा था अंततः पांचवे राउंड में उन्होने इंग्लैंड के अनुभवी ग्रांड मास्टर माइकल एडम्स पर जीत दर्ज करते हुए कुछ हद तक वापसी की राह पकड़ ली है । यह जीत ना सिर्फ उनका हौसला बढ़ाएगी बल्कि उनकी इस ग्रांड प्रिक्स में अच्छा करने की अवसर को भी जिंदा रखने वाली साबित होगी । । पिछले कुछ महीनो में एडम्स के उपर यह उनकी लगतार तीसरी जीत है और इस जीत से हरीकृष्णा जहां 2.5 अंको के साथ सयुंक्त तीसरे स्थान पर पहुँच गए है वंही एडम्स 1 अंक के साथ अंतिम पायदान पर ।

                    वैसे हमेशा राजा के प्यादे को चलकर शुरुआत करने वाले हरीकृष्णा नें आज रानी के प्यादे को चलकर एडम्स को चौंका दिया और 51 चालो में जीत दर्ज की । फिलहाल चीन के डिंग लीरेन और अजरबैजान के ममेद्यारोव 3.5 अंक के साथ सयुंक्त पहले स्थान पर चल रहे है । चार खिलाड़ी 3 अंको पर तो 7 खिलाड़ी 2.5 अंको पर है मतलब साफ है की अगले चार राउंड बेहद महत्वपूर्ण होंगे और इनमें अच्छा कर हरीकृष्णा शीर्ष तीन में जगह बना सकते है।

आज से हम आपको अपने न्यूज़ पेज पर शतरंज प्रेमियों के लिए एक नया फीचर देने जा रहे है अब आप इसमें मैच का भी आनंद उठा  सकते है । 

 

यह प्रसारण चेसबेस इंडिया के सौजन्य से 

PunjabKesari

 

निकलेश जैन 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You