आखिरी वनडे के लिए खास तैयारियों में जुटा है यह भारतीय खिलाड़ी

  • आखिरी वनडे के लिए खास तैयारियों में जुटा है यह भारतीय खिलाड़ी
You Are HereCricket
Friday, October 28, 2016-4:47 PM

विशाखापत्तनम: केदार जाधव विशेषज्ञ बल्लेबाज से ऐसे खिलाड़ी बनते जा रहे हैं जिनकी आफ ब्रेक गेंदें टीम के लिए काफी अहम साबित हो रही हैं और इस क्रिकेटर का मानना है कि उनके इस बदलाव की अहम बात ‘चुनौतियों को स्वीकार करने और इनसे निपटने के तरीके को जानने’ की है। 

जाधव ने 4 मैचों में 18 ओवर फेंके और 4.05 की अच्छी इकोनोमी दर से 73 रन देकर 6  विकेट अपने नाम किए। जाधव ने न्यूजीलैंड के खिलाफ होने वाले 5वेंं और अंतिम वनडे की पूर्व संध्या पर कहा कि यह सिर्फ जिमेदारियां लेने और आपको मिलने वाली चुनौतियों को स्वीकार करना और फिर इन चुनौतियों का सफलतापूर्वक निपटारा करना है। 

सुरेश रैना की जगह खेल रहे जाधव ने तब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में पहली बार गेंदबाजी की थी जब महेंद्र सिंह धेानी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले एक दिवीसय अंतरराष्ट्रीय में धर्मशाला की तेज पिच पर उन्हें नियमित स्पिन जोड़ी अक्षर पटेल और अमित मिश्रा के पहले गेंद थमाई।जाधव ने कहा कि अगर कप्तान आपसे कुछ ओवर गेंदबाजी करने के लिए कह रहा है तो आपको योगदान करने की जरूरत होती है। आपको सिर्फ कामचलाउ गेंदबाज के तौर पर गेंदबाजी नहीं करनी होती। आपको बल्ले और गेंद से जिम्मेदारी लेने की जरूरत होती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You