भारत इंग्लैंड सीरीज पर संकट, BCCI को हो सकता है 200 करोड़ का घाटा

  • भारत इंग्लैंड सीरीज पर संकट, BCCI को हो सकता है 200 करोड़ का घाटा
You Are HereCricket
Friday, November 04, 2016-7:44 PM

नई दिल्ली: भारत इंग्लैंड क्रिकेट सीरीज पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। नौ अक्टूबर से पांच टेस्ट मैच की सीरीज शुरू हो रही है। लेकिन इस पर बोर्ड ने राजनीति शुरू कर दी है. बीसीसीआई ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के मैनेजर फिल नील को पत्र लिखकर यह जानकारी दी है कि सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई पर कुछ पाबंदियां लगाई हैं। जिसके चलते मेहमान टीम को कुछ सुविधाएं नहीं दी जा सकती हैं। जो उसे मिलनी चाहिए। वहीं इंग्लैंड के मैनेजर फिल नील ने भी बीसीसीआई सचिव अजय शिर्के को वापस चिठ्ठी लिखी है। जिसमें लिखा गया है की ईसीबी विकल्पों पर विचार कर रहा है। अगर सीरीज रद्द होती है तो भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को 200 करोड़ का घाटा होने का अनुमान है।

बीसीसीआई और आर एम लोढा की अध्यक्षता वाली समिति के बीच रोजाना नए विवाद पैदा हो रहे हैं और ताजा मामले में भारतीय बोर्ड के सचिव अजय शिर्के ने भारत दौरे के लिए आ चुकी ईसीबी से दौरे का खर्च खुद उठाने की अपील की है। शिर्के ने दलील दी है कि बोर्ड लोढा समिति के निर्देशों के बिना ईसीबी के साथ समझौता पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर नहीं कर सकता है और ऐसे में उसे इस दौरे का खर्च खुद उठाना होगा।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार शिर्के ने ईसीबी के सचिव फिल नील को एक पत्र लिखकर यह अपील की है। उन्होंने पत्र में कहा कि वह इंगलैंड टीम का नौ नवंबर से शुरू हो रही क्रिकेट सीरीज के लिए स्वागत करते हैं लेकिन फिलहाल दोनों बोर्डों के बीच एमओयू का पालन नहीं कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि अदालत ने बीसीसीआई पर कुछ प्रतिबंध लगा रखे हैं।

उन्होंने कहा कि भारत आने पर होटल, परिवहन सहित बाकी के प्रबंध किए गए थे लेकिन जब तक एमओयू लागू नहीं हो जाता है बीसीसीआई इन खर्चों के लिए भुगतान नहीं कर सकता है। आपसे अपील की जाती है कि इनके लिए स्वयं खर्च वहन करें। लोढा समिति से आगे के निर्देश मिलने के बाद बीसीसीआई आपको आगे की जानकारी देगी। मैं आपको हो रही परेशानी के लिए बीसीसीआई की ओर से माफी मांगता हूं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You