भारत ने फिर दोहराई पुरानी गलती, सेमीफाइनल में कनाडा से हारा

  • भारत ने फिर दोहराई पुरानी गलती, सेमीफाइनल में कनाडा से हारा
You Are HereSports
Sunday, June 25, 2017-6:40 PM

लंदन: भारत ने एक बार पुरानी गलतियां दोहराईं और उसे कनाडा के हाथों रविवार को एफआईएच हॉकी वल्र्ड लीग सेमीफाइनल में 2-3 से हारकर छठे स्थान से संतोष करना पड़ा। कनाडा को पांचवां स्थान मिला।  भारत ने पांचवें से छठे स्थान के मुकाबले में 40 मिनट तक 2-1 बढ़त बना रखी थी लेकिन कनाडा ने तीसरे क्वार्टर में चार मिनट के अंतराल में दो गोल दाग कर 3-2 की बढ़त बनाई और इसे अंत तक कायम रखते हुए 2018 में भारत में होने वाले हॉकी विश्व कप का टिकट हासिल कर लिया। भारत ने जो तेवर कल पाकिस्तान का 6-1 से हराने में दिखाए थे वे इस मैच में नदारद थे और कनाडा ने इस जीत से भारत से ग्रुप मैच में मिली 0-3 की हार का बदला भी चुका लिया। 

कनाडा ने मैच में गोल की शुरुआत तीसरे ही मिनट में कर डाली। गॉर्डन जॉन्स्टन ने पेनल्टी कार्नर पर गोल कर कनाडा को आगे कर दिया। भारत ने बराबरी हासिल करने में ज्यादा समय नहीं लगाया। ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह ने सातवें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोल कर भारत को 1-1 की बराबरी दिला दी। हरमनप्रीत ने 22 वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर फिर गोल दागा और भारत 2-1 से आगे हो गया। भारत पहला हाफ समाप्त होने तक एक गोल की बढ़त बना चुका था लेकिन कनाडा ने तीसरे क्वार्टर में चार मिनट के अंतराल में दो गोल दाग कर 3-2 की बढ़त बना ली। 

कीगन परेरा ने 40 वें मिनट और जॉन्स्टन ने 44 वें मिनट में मैदानी गोल कर कनाडा को बढ़त पर ला दिया। कनाडा ने इस बढ़त को अंत तक बरकरार रखा। भारत ने मलेशिया के हाथों क्वार्टर फाइनल में 2-3 की हार में जो गलतियां की थीं उसने उन्हें इस मैच में भी दोहराया। भारत ने आखिरी क्वार्टर में लगातार पेनल्टी कार्नर गंवाए जिससे उसके हाथ से वापसी करने का मौका निकल गया। कनाडा के गोलकीपर एंटोनी किंडल ने कुछ शानदार बचाव कर अपनी टीम को जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इससे पहले पाकिस्तान ने चीन 3-1 से हराकर सांतवा स्थान हासिल किया। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You