कुंबले ने कहा, चोट से वापसी के बाद घरेलू मैचों में खेलना जरूरी

  • कुंबले ने कहा, चोट से वापसी के बाद घरेलू मैचों में खेलना जरूरी
You Are HereCricket
Sunday, November 06, 2016-6:25 PM

राजकोट: मुख्य कोच अनिल कुंबले ने एक ‘कायदा’ बनाया है कि चोट से उबर रहे खिलाडिय़ों को राष्ट्रीय टीम में वापसी करने पर अपने नाम का विचार कराने के लिए ‘‘घरेलू क्रिकेट’’ में खेलना होगा। बीते समय में एेसे कई उदाहरण रहे हैं जब खिलाड़ी गंभीर चोट के बाद तेजी से वापसी के चक्कर में चोटिल हो गये। रोहित शर्मा, के एल राहुल, शिखर धवन और भुवनेश्वर कुमार चोटिल खिलाडिय़ों की सूची में शामिल हैं, कुंबले को लगता है कि ‘खिलाडिय़ों के साथ बातचीत इसमें अहम है’ क्योंकि उनकी वापसी की उत्सुकता को समझा जा सकता है।   

कुंबले ने कहा,‘‘किसी भी टीम की गतिविधि में बातचीत अहम है। अच्छा कर रहे हैं या नहीं, लेकिन चोटिल खिलाडिय़ों के साथ बातचीत इतनी ही अहम है। इस खेल को खेलने के बाद मैं जानता हूं कि जब कोई और खिलाड़ी खेल रहा होता है तो उनके दिमाग में क्या चल रहा होता है। वह उम्मीद करता है कि उसकी टीम और वह खिलाड़ी अच्छा करे, लेकिन उन्हें एक साथ रखना काफी अहम होता है।’’ वह राहुल और रोहित के लिए बहुत दुखी थे जिन्हें हाल में जांघ की गंभीर चोट लगी थी जिसकी सर्जरी की जरूरत हो सकती है।   

उन्होंने कहा,‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि केएल राहुल जो इतना बढिय़ा खेला, अब नहीं खेल रहा। इसी तरह भुवी, शिखर। रोहित के लिए यह बड़ा झटका है। रोहित के लिए बहुत दुखी हूं क्योंकि वह टेस्ट प्रारूप में बढिय़ा कर रहा था। निश्चित रूप से हम रोहित की छोटे प्रारूप में अहमियत जानते हैं।’’  
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You