रणजी मैच: जब प्रैक्टिस के लिए मास्क पहन कर मैदान पर आए खिलाड़ी

  • रणजी मैच: जब प्रैक्टिस के लिए मास्क पहन कर मैदान पर आए खिलाड़ी
You Are HereCricket
Sunday, November 06, 2016-1:23 PM

नई दिल्ली: राजधानी में आज छाई धुंध के कारण यहां दो रणजी ट्राफी मैचों का पहले दिन का खेल नहीं होने के बाद रविवार को प्रैक्टिस के दौरान खिलाड़ी मास्क पहन कर मैदान पर आए, क्योंकि खिलाडिय़ों नेे आंख में जलन की समस्या और सांस लेने में दिक्कत की शिकायत की।  

बता दें कि फिरोजशाह कोटला मैदान में खेले जाने वाले बंगाल और गुजरात के बीच ग्रुप ए के लीग मैच और त्रिपुरा व हैदराबाद के बीच करनैल सिंह स्टेडियम में खेले जाने वाले ग्रुप सी मैच का पहला दिन धुंंध की भेंट चढ़ गया। हालांकि खराब रोशनी के कारण खेल रद्द कर दिया गया। ऐसा बिरले ही होता है कि दोनों टीमों के खिलाड़ी रोशनी के ठीक होने के बाद भी आंख में जलन और सांस लेने में दिक्कत की शिकायत कर रहे थे।  दीवाली के बाद हुई धुंध से देखने में परेशानी हो रही है और हवा भी स्वच्छ नहीं है।   

कोटला पर मनोज तिवारी और पार्थिव पटेल टास के लिए गए लेकिन मैच रैफरी पी रंगनाथन ने अंपायर वीरेंद्र शर्मा और के भारतन ने टास नहीं करवाया।  शाम 4 बजे अंपायरों ने कई बार मुआयना करने के बाद आधिकारिक तौर पर दिन का खेल रद्द कर दिया।  बंगाल के कोच साईराज बहुतुले ने कहा, ‘‘खिलाड़ी शिकायत कर रहे थे कि उनकी आंख में जलन हो रही है। हालत बुरी थी। ’’  बल्कि बंगाल के गेंदबाजी कोच राणादेब बोस तो जहरीली हवा के कारण मास्क पहने हुए थे।   


डीडीसीए के एक अधिकारी ने कहा कि खिलाडिय़ों में सांस लेने में तकलीक की शिकायत की। अगर आप एक घंटे भी बाहर रहोगे तो आप जो हवा सांस से अंदर लोगे, उससे आपके फेंफड़े को काफी नुकसान होगा।  दिल्ली में हालात इतने खराब हैं और धुंध के बरकरार रहने की भविष्यवाणी है जिससे काफी कम क्रिकेट खेला जाएगा।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You