रवि शास्त्री के हेड कोच बनने से BCCI को होगा करोंड़ो का फायदा

  • रवि शास्त्री के हेड कोच बनने से BCCI को होगा करोंड़ो का फायदा
You Are HereSports
Sunday, July 16, 2017-11:19 AM

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के साथ अनबन की वजह से अनिल कुंबले ने कोच पद से इस्तीफा दे दिया। इस दौरान कोच पद की जिम्मेदारी रवि शास्त्री को दी गई, लेकिन अभी इनकी सैलरी का निर्णय नहीं लिया गया, जो बीसीसीआई द्वारा गठित चार सदस्यीय पैनल करेगा। इस पैनल में बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना, सीईओ राहुल जौहरी और प्रशासनिक समिति की सदस्य डायना इडूल्जी हैं। 

9 करोड़ रुपए था अनिल कुंबले का सालाना फीस 
सूत्रों की मानें तो शास्त्री को कोच पद के लिए 7 करोड़ से लेकर 7.5 करोड़ रुपए सालान दिए जाएंगे, जिससे बीसीसीआई के करोड़ों रुपए की बचत होगी, यानि कि पूर्व कोच  अनिल कुंबले का सालाना 9 करोड़ रुपए थी। यह फीस ग्रेड ए प्लेयर की सालाना फीस के बराबर है। जो किसी भी कोच को दी जाने वाली मोटी फीस थी। 

बोर्ड ने जहीर और राहुल की सेलेक्शन पर लिया बड़ा यूटर्न
बता दें कि बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने 11 जुलाई को पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री को भारतीय टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया था जबकि द्रविड़ को विदेशी दौरों पर भारतीय बल्लेबाजी सलाहकार तथा पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान को गेंदबाजी कोच बनाने की घोषणा की थी। लेकिन अब बोर्ड ने अपने इस फैसले पर बड़ा यू-टर्न ले लिया है। 

शास्त्री अब खुद ही चुनेंगे अपना सपोर्ट स्टाफ
माना जा रहा है कि शास्त्री अब खुद ही अपना सपोर्ट स्टाफ चुनेंगे। बोर्ड का संचालन कर रही प्रशासकों की समिति के अध्यक्ष विनोद राय ने कहा है कि द्रविड़ और जहीर के नामों की सपोर्ट स्टाफ में इन पदों पर केवल सिफारिश ही की गई थी और उनकी नियुक्तियों पर मुहर के लिए सीओए से और मुख्य कोच शास्त्री से सलाह किए जाने की जरूरत है।  इस बीच माना जा रहा है कि नवनियुक्त कोच शास्त्री अपना सपोर्ट स्टाफ खुद ही चुनेंगे। वहीं सीओए ने शनिवार को ही एक नई 4 सदस्यीय समिति का गठन किया है जो द्रविड़ और जहीर को लेकर आगे का फैसला करेगी। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You