एशियाई चैम्पियनशिप में साक्षी ने जीता सिल्वर मैडल

  • एशियाई चैम्पियनशिप में साक्षी ने जीता सिल्वर मैडल
You Are HereSports
Friday, May 12, 2017-11:07 PM

नई दिल्ली: स्टार पहलवान साक्षी मलिक को आज यहां महिला 60 किग्रा वर्ग के फाइनल में जापान की रिसाकी कवाई के खिलाफ शिकस्त के साथ एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप में सिल्वर मैडल के साथ संतोष करना पड़ा। आेलंपिक के बाद अंतरराष्ट्रीय सर्किट में वापसी कर रही साक्षी लय में नहीं दिखी और उन्हें रियो आेलंपिक के 63 किग्रा वर्ग की स्वर्ण पदक विजेता रिसाकी के खिलाफ दो मिनट और 44 सेकेंड में ही 10-0 से शिकस्त का सामना करना पड़ा। पिछले साल रियो में कांस्य पदक के साथ आेलंपिक में पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनकर इतिहास रचने वाली साक्षी जापान की अपनी मजबूत प्रतिद्वंद्वी का कोई चुनौती नहीं दे पाई।  

वजन वर्ग बढ़ाने के बाद 58 किग्रा की जगह पहली बार 60 किग्रा वर्ग में हिस्सा ले रही साक्षी को फाइनल तक के सफर के दौरान बामुश्किल पसीना बहाना पड़ा। चौबीस साल की साक्षी ने क्वार्टर फाइनल में उज्बेकिस्तान की नबीरा एसेनबाएवा को 6-2 से हराने के बाद सेमीफाइनल में अयाअुलिम कासीमोवा को 15-3 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। एक अन्य भारतीय विनेश फोगाट को भी महिला 55 किग्रा वर्ग में रजत पदक से संतोष करना पड़ा। दिव्या ककरान भी महिला 69 किग्रा वर्ग के फाइनल में जगह बनाने में सफल रही। विनेश का सफर भी आसान रहा। उन्होंने महिला 55 किग्रा के क्वार्टर फाइनल में उज्बेकिस्तान की सेवारा इशमुरातोवा को 10-0 से हराने के बाद चीन की की झांग को 4-0 से हराया।  

दिव्या ने भी फाइनल के सफर के दौरान प्रभावित किया। उन्होंने ताइपे की चेन ची को मैट पर गिराकर 2-0 से हराया और फिर सेमीफाइनल में कोरिया की हियोनयोंग पार्क को 12-4 से शिकस्त दी। रितु फोगाट को हालांकि महिला 48 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में जापान की युई सुसाकी के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी। वह अब कांस्य पदक के लिए चुनौती पेश करेंगी। पिंकी को हालांकि महिला 53 किग्रा वर्ग क्वार्टर फाइनल में ही हार का सामना करना पड़ा। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You