हम कभी किसी बल्लेबाज पर दबाव नहीं बनाते: कुुंबले 

  • हम कभी किसी बल्लेबाज पर दबाव नहीं बनाते: कुुंबले 
You Are HereCricket
Thursday, September 29, 2016-8:16 AM

कोलकाता: टीम इंडिया के प्रमुख कोच अनिल कुंबले ने कहा है कि टीम में कभी किसी बल्लेबाज पर स्ट्राइक रेट को लेकर दबाव नहीं बनाया जाता और सभी बल्लेबाज अपना स्वाभाविक खेल खेलने के लिए स्वतंत्र है। 

पूर्व चयनकर्ता प्रमुख संदीप पाटिल ने हाल में कहा था कि वैस्टइंडीज दौरे में चेतेश्वर पुजारा का फार्म कुंबले और कप्तान विराट कोहली के लिए चिंताजनक था और पुजारा को अपने स्ट्राइक रेट में सुधार करने के लिए कहा गया था। कुंबले ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 30 सितंबर से यहां ईडन गार्डन में शुरु होने वाले दूसरे टैस्ट से पूर्व बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इस तरह के बयान सामने आने से मैं पूरी तरह से हैरान और निराश हूं। टैस्ट क्रिकेट में खिलाड़ियों को परिस्थितियों और टीम की जरुरतों के अनुसार खेलना होता है। यह ठीक है। वह हमारी योजना का एक अहम हिस्सा हैं। वह (पुजारा) एक सफल बल्लेबाज हैं और हमें उम्मीद है कि अपने इस फार्म को आगे भी जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि टैस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजों से ज्यादा गेंदबाज का स्ट्राइक रेट मायने रखता है।   

कोच ने कहा कि पिछले 8 वर्षों से ट्वंटी-20 क्रिकेट के आने से स्ट्राइक रेट पर काफी चर्चा होने लगी है। जहां तक मेरा संबंध है मैं पुरानी सोच रखने वाला व्यक्ति हूं। जब मैं टेस्ट क्रिकेट खेलता था तो बल्लेबाजों के स्ट्राइक रेट के बारे में बातें न होकर गेंदबाजों के स्ट्राइक रेट के बारे में बात की जाती थी। टैस्ट मैच में आपको विभिन्न भूमिका निभाने की जरुरत होती है। हर मैच की परिस्थितियां अलग होती है और आपको उसी के अनुसार खेलना होता है। यही टैस्ट मैच की खूबी है।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You