ATM लाइन में खड़े लोगों को वीरेंद्र सहवाग का संदेश

  • ATM लाइन में खड़े लोगों को वीरेंद्र सहवाग का संदेश
You Are HereCricket
Tuesday, November 15, 2016-4:30 PM

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के द्वारा 500 और 1000 के नोट बंदी की घोषणा के बाद से हाहाकार मचा हुआ है। लोगों को अपने पैसे बदलने के लिए घंटो लाइन में लगना पड़ रहा है।

सहवाग ने देशवासियों को दिया संदेश
बैंकों और एटीएम के बाहर लोग बड़ी संख्या में खड़े होकर अपनी-अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में सरकार के इस फैसले का विरोध में कई स्वर उठे। ऐसे में क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने देशवासियों को एक ऐसा संदेश दिया है जिसके बाद एटीएम लाइन में खड़े रहने पर भी आप गर्व महसूस करेंगे।

सहवाग ने ट्वीट कर कहा...
वीरेंद्र सहवाग ने टि्वटर पर लिखा है कि यदि शहीद हनुमनथप्पा सियाचिन 35 फीट गहरे बर्फ में दबकर भी 6 दिन तक बचाए जाने का इंतजार कर सकते हैं, तो फिर क्या हम अपने देश को बचाने के लिए कुछ घंटे लाइन में नहीं लग सकते हैं? 

 



सियाचिन ग्लैशियर में दब गए थे हनुमनथप्पा 
बता दें कि सियाचिन ग्लैशियर में फरवरी माह में 10 सैनिक हिमस्खलन से बर्फ में दब गए थे। इसके बाद 9 सैनिकों के शव निकाले गए थे वहीं हनुमनथप्पा 6 दिन तक 35 फीट गहरे बर्फ दबे रहने के बाद भी जिंदा बाहर निकले थे। हालांकि इसके बाद दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रिफरल हॉस्पिटल में उनका निधन हो गया था।

हालांकि वीरेंद्र सहवाग ने इससे पहले एक अन्य ट्वीट में ऐसी 5 जगह बताई थी जहां 31 मार्च के बाद भी चलेंगे ये नोट चल पाएंगे। सहवाग ने अपने ट्वीट में लिखा था कि “31 मार्च के बाद गंगा, यमुना, सरस्वती, नर्मदा और गोदावरी नदी के बैंकों यानी कि किनारों पर आप इन नोटों को बहा सकते हैं, वहां पर ये तब भी स्वीकार्य होंगे।”


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You