नासा के मंगलयान ने ढूढ़ा मंगल पर पानी

  • नासा के मंगलयान ने ढूढ़ा मंगल पर पानी
You Are HereInternational
Friday, January 24, 2014-4:09 PM

वॉशिंगटन: नासा के अपॉरचुनिटी रोवर को दुनिया ने 10वीं सालगिरह की बधाई दी और इसी के साथ यह घोषणा भी की गई कि इस मंगलयान ने मंगल ग्रह पर ताजे पानी की मौजूदगी के ठोस सबूत पाए हैं। दस साल पहले 24 जनवरी, 2004 को आपॉरचुनिटी रोवर मंगल ग्रह पर उतरा था।

23 जनवरी को रोवर की 10वीं सालगिरह मनाते हुए, नासा में डुअल-रोवर मिशन के उपप्रमुख अन्वेषक रे अरविडसन ने कहा कि ठंडे और सूखे मंगल ग्रह पर एक बार ज्वालामुखी विस्फोट हुआ था। सेंट लुईस स्थित वॉशिंगटन युनिवर्सिटी में उपस्थित जनसमूह को अरविडसन ने कहा कि अपॉरचुनिटी ने उन स्थितियों के सबूत खोज लिए हैं, जो अतीत में ग्रह पर जीवन के लिए सहायक रहे होंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘हम पृथ्वी को बेहतर समझने के लिए मंगल ग्रह पर खोजबीन कर रहे हैं। मंगल ग्रह पर हम भौगोलिक प्रक्रिया और पर्यावरणीय प्रक्रिया के बारे में पता कर सकते हैं, जो पृथ्वी पर समाप्त हो चुका हो।’’ मंगल ग्रह पर जीवन के आवश्यक तत्व थे या नहीं, इसके बारे में जानने के लिए अगस्त 2012 में नासा का क्युरिऑसिटी रोवर मंगल ग्रह पर उतारा था। उसने जो संदेश भेजे थे, उसने संकेत दिया कि मंगल पर किसी समय जीवन था। हमने 2010 में अपॉरचुनिटी के जुड़वे रोवर स्पिरिट को खो दिया।’’ उन्होंने आगे कहा कि लेकिन वह अपॉरचुनिटी के जीवन से खुश हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You