दुनिया का पहला सौर शौचालय भारत में होगा लॉन्च

  • दुनिया का पहला सौर शौचालय भारत में होगा लॉन्च
You Are HereNational
Friday, March 14, 2014-4:46 PM

वॉशिंगटन: सूर्य की ऊर्जा से चलने वाला जलहीन शौचालय इस माह भारत में शुरू किया जाएगा। यह शौचालय दुनिया भर के उन ढाई अरब लोगों के लिए मददगार साबित होगा, जो सुरक्षित और टिकाउ सफाई व्यवस्था की कमी का सामना कर रहे हैं।

ये शौचालय बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से मिले 7.77 लाख डॉलर के अनुदान से बनाए गए हैं। अपनी अलग व्यवस्था वाले इन जलहीन शौचालयों में ऐसे नवोन्मेषी तकनीक लगी है, जो मानवीय अपशिष्टों को बायोचार में बदल देती है। बायोचार एक बेहद सरंध्र चारकोल होता है।

इसका उद्देश्य दुनिया के उन ढाई अरब लोगों की मदद के लिए ऐसा पर्यावरण अनुकूल हल उपलब्ध करवाना है, जो सुरक्षित और टिकाउ सफाई व्यवस्था की कमी झेल रहे हैं। इस परियोजना के प्रमुख जांचकर्ता और कोलोरेडो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर कार्ल लिंडेन ने कहा कि इस शौचालय में मानवीय अपशिष्टों को इतने अधिक ताप तक गर्म करने की क्षमता है, ताकि वह बैक्टीरिया से मुक्त हो जाए और बायोचार बना सके।

बायोचार का इस्तेमाल फसलों का उत्पादन बढ़ाने में और ग्रीन हाउस गैस कार्बन डाई ऑक्साइड को अलग करने में किया जा सकता है।  लिंडेन की टीम गेट्स द्वारा अनुदान प्राप्त ‘शौचालय चुनौती की पुनर्खोज’ के तहत दुनिया भर में तैनात 16 टीमों में से एक है। सभी अपने आविष्कारों को दिल्ली लाए हैं। यहां वैज्ञानिकों, इंजीनियरों और प्रतिष्ठित लोगों के लिए 20-22 मार्च को इसे प्रदर्शित किया जाएगा।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You