धनतेरस: राशिनुसार खरीदें नया पर्स, धन के नुक्सान से बचेंगे और मिलेगी बरकत 

  • धनतेरस: राशिनुसार खरीदें नया पर्स, धन के नुक्सान से बचेंगे और मिलेगी बरकत 
You Are HereVastu Shastra
Wednesday, October 26, 2016-1:59 PM

धनतेरस पर बन रहा है इस बार अतिशुभ योग, ग्रह नक्षत्रों के साथ आया है शुक्रवार। ऐसे शुभ दिन लेंगे नया पर्स या हैंड बैग तो मिलेगा दोगुना लाभ।  धनतेरस पर कुछ बातों का जरूर ध्यान रखें। इससे आपका पर्स हमेशा पैसों से भरा रहेगा और धन संबंधी परेशानियां दूर हो जाएंगी।
 
* आज के दिन किसी को उधार न दें।
 
* पुराना फटा पर्स बदल दें, नया पर्स या बैग खरीदें। इसमें क्रिस्टल, श्री यंत्र, गोमती चक्र, कौड़ी, हल्दी की गांठ, पिरामिड, लाल रंग का कपड़ा, लाल लिफाफे में अपनी इच्छा /विश लिख कर रखें। लाल रेशमी धागे में गांठ लगा कर पर्स में रख लें। मनोकामना में विवाह की इच्छा या ऐसा ही कोई रुका कार्य या धन प्राप्ति आदि लिख सकते हैं।
 
* मेष, सिंह, वृश्चिक व धनु राशि वाले लाल, पीला, नारंगी या भूरे रंग का पर्स या बैग रखें।


* वृष, तुला, कर्क वाले सफेद, सिल्वर, गोल्डन, आसमानी।


* मकर व कुंभ राशि के लोग नीले, काले, ग्रे कलर के हैंड बैग लें।


* मिथुन तथा कन्या राशि के हरे रंग के पर्स या बैग खरीदें । 


वास्तु के नियमों के अनुसार रखेंगे पर्स तो मिलेगी बरकत और धन के नुक्सान से भी  बच सकते हैं।

- पर्स में सिक्के और नोट दोनों ही अलग-अलग स्थानों पर रखने चाहिए। 

 

- पर्स में मृत व्यक्तियों के चित्र रखना भी शुभ नहीं माना जाता। पर्स में संत-महात्मा के चित्र रखे जा सकते हैं। 

 

- पर्स में किसी भी प्रकार के बिल या भुगतान से संबंधित कागज नहीं रखने चाहिए।

 

- अपने पर्स में एक लाल रंग का लिफाफा रखें। इसमें आप अपनी कोई भी मनोकामना एक कागज में लिख कर रखें। वह शीघ्र पूरी होगी।

 

- लाल रेशमी धागे से गांठ बांध कर रखें।

 

- बैग में शीशा और छोटा चाकू अवश्य रखें।

 

- बैग में रुपए पैसे जहां रखते हों वहां कौड़ी या गोमती चक्र अवश्य रखें।

 

- चाबी छल्ले में डाल कर रखें। इस छल्ले में लाफिंग बुद्धा या अन्य कोई फेंगशुई का प्रतीक अच्छा रहता है। 

 

- पर्स में किसी भी प्रकार का पिरामिड रखें। 

 

- रात्रि में सोते समय पर्स कभी भी सिराहने न रख कर उसे हमेशा अलमारी में रखें।

 

- पर्स में रुपए कभी भी मोड़ कर न रखें।

 

- पर्स में कभी भी रुपयों के साथ कोई बिल-रसीद या टिकट न रखें। इससे विवाद बढ़ता है।


- अपने पर्स में किसी पूर्णिमा को लाल रेशमी कपड़े में चुटकी भर या 21 दाने अखंडित चावल बांध कर छुपा कर रखने से बेवजह खर्च नहीं होता है।


वीडियो देखने के लिए क्लिक करें


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You