रंग के अनुसार जादुई बांसुरी को दें घर में स्थान, होगा उम्मीद से अधिक फायदा

  • रंग के अनुसार जादुई बांसुरी को दें घर में स्थान, होगा उम्मीद से अधिक फायदा
You Are HereVastu Shastra
Saturday, October 15, 2016-1:04 PM

वास्तुशास्त्रियों के अनुसार बांसुरी शुभता की प्रतीक है। इसे घर में रखने से जहां बहुत सारी समस्याओं का हल होता है, वहीं यह मनोकामनाएं भी पूरी करती है। जब-जब श्यामसुन्दर की बंसी बज उठती प्राणियों की तो बात ही क्या जड़ भी मानों मुग्ध और चेतन हो जाते। मुरली के मधुर स्वर जैसे ही गीत गाने लगते देवता, यक्ष, किन्नर, मनुष्य, पशु-पक्षी, जड़ और चैतन्य सभी विमोहित होकर झूम उठते। तो आईए जानें जादुई बांसुरी के लाभ, देते हैं उम्मीद से अधिक फायदा।


* बैडरूम के दरवाजे के पास पीली बांसुरी रखने से मन पसंद नौकरी पाने की इच्छा पूरी होती है।


* बिजनैस में तरक्की के लिए दुकान के गल्ले में चांदी की बांसुरी रखें।


* घर के पूजा घर में मोर पंख लगी बांसुरी अवश्य रखनी चाहिए। घर-परिवार पर दैविय कृपा बनी रहती है।


* मनचाहे जीवनसाथी की तलाश कर रहे कुंवारे, अपने बिस्तर के पास अथवा तकिए की नीचे लाल रंग की बांसुरी रख कर सोएं।


* निसंतान दंपत्ति को अपने बैडरूम में हरे रंग की बासंरी छुपा कर रखनी चाहिए, जल्द ही घर आंगन में बच्चे की किलकारियां गूंजेगी।


* नया बिजनैस खोलने की चाह है तो अपने कपड़ों की अलमारी में लकड़ी की बांसुरी छुपा कर रखें। 


* विद्यार्थी अपने कमरे में सफेद बांसुरी रखें, हर परिक्षा में सफलता साथ देगी।


* घर की तिजोरी में चांदी की बांसुरी रखने से वो सदा धन-दौलत से भरी रहती है।


* रसोई में सुनहरी बांसुरी रखने से घर में रोग प्रवेश नहीं करते, जो पारिवारिक सदस्य अधिक समय से बीमार हैं, वो भी जल्दी ठीक हो जाते हैं।


* एक ही रंग की दो बांसुरी घर के हॉल में रखने से परिवार में प्रेम बना रहता है, घर में हो रहे क्लेश और तू-तू मैं-मैं से भी छुटकारा मिलता है।


* घर और कार्यस्थान में नकारात्मक शक्तियों के प्रवेश को रोकने के लिए काले रंग की बांसुरी छत पर टांग दें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You