‘स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़’ दिल्ली में महिला सुरक्षा की दयनीय स्थिति उजागर

Edited By ,Updated: 21 Jan, 2023 05:08 AM

swati maliwal molested  exposes pathetic state of women s safety in delhi

राष्ट्रीय राजधानी होने के नाते दिल्ली शेष देश की तुलना में अधिक सुरक्षित मानी जाती है परंतु स्थिति इसके विपरीत है और यहां भी तरह-तरह के अपराधों की भरमार है। केंद्र शासित प्रदेशों में वर्ष 2021 में महिलाओं के विरुद्ध अपराधों की उच्चतम दर दिल्ली में...

राष्ट्रीय राजधानी होने के नाते दिल्ली शेष देश की तुलना में अधिक सुरक्षित मानी जाती है परंतु स्थिति इसके विपरीत है और यहां भी तरह-तरह के अपराधों की भरमार है। केंद्र शासित प्रदेशों में वर्ष 2021 में महिलाओं के विरुद्ध अपराधों की उच्चतम दर दिल्ली में ही दर्ज की गई थी और वर्तमान में भी स्थिति लगभग इसी तरह की है। 

नववर्ष की मध्य रात्रि को एक कार के नीचे फंसी युवती को कार सवार युवक कई किलोमीटर घसीटते ले गए। इस दौरान उसके शरीर की हड्डिïयां तक बाहर निकल आईं और तड़प-तड़प कर उसकी मौत हो गई। उन्हीं दिनों दिल्ली के पांडव नगर में दिन-दिहाड़े एक युवती को कार में खींचने और उस पर तेजाब फैंकने की कोशिश की गई। एक अन्य घटना में दोस्ती तोडऩे पर एक युवक ने युवती को चाकू से गोद कर मार डाला। ऐसी न जाने कितनी घटनाएं यहां रोज हो रही हैं। स्थिति की गंभीरता का अनुमान इसी से लगाया जा सकता है कि राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा

और पुलिस की तैनाती की स्थिति का निरीक्षण करने निकलीं ‘दिल्ली महिला आयोग’ की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल को भी 18 जनवरी को देर रात कटु अनुभव से गुजरना पड़ा। इस दौरान वह कंझावला, मुनीरका, मुंडका और हौजखास आदि स्थानों पर गईं। स्वाति मालीवाल के अनुसार, ‘‘मैं यह देखना चाहती थी कि रात के समय बस स्टैंड पर अकेली खड़ी एक महिला को क्या कुछ झेलना पड़ता है।’’ 

जब वह ‘एम्स’ के निकट के इलाके में रिंगरोड के बस स्टैंड पर खड़ी थीं तभी सफेद रंग की ‘बलेनो’ कार में नशे में धुत्त एक व्यक्ति वहां आकर रुका और कार के शीशे नीचे करके कार में बैठने के लिए उन पर दबाव डालने लगा। इनके फटकार डालने पर पहले तो वह चला गया लेकिन कुछ देर बाद दोबारा लौट कर उन्हें फिर अपनी कार में बैठने को कहने लगा। 

स्वाति मालीवाल के अनुसार, ‘‘उस व्यक्ति ने मुझे अश्लील इशारे करने शुरू कर दिए। जब मैं उसे फटकार लगाने के लिए उसके निकट पहुंची तो उसने मुझे फिर अश्लील इशारा किया। जब मैंने उसे पकडऩे की कोशिश की तो उसने खिड़की का शीशा ऊपर उठा दिया और मेरा हाथ उसमें फंस गया।’’ यह जानते हुए भी कि वह नशे में धुत्त है उसने कार दौड़ा दी और मैं कई मीटर तक उसके साथ घिसटती चली गई। मैंने किसी तरह अपना हाथ छुड़वाया और भगवान की कृपा से मैं आज जीवित हूं। 

घटना के समय स्वाति मालीवाल की टीम उनके साथ थी परंतु वह कुछ दूरी पर खड़ी थी। स्वाति मालीवाल का यह भी कहना है कि उनकी टीम के सदस्यों ने पीछा करके कार को रोका। यदि दिल्ली में महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं, तो कोई भी महिला सुरक्षित नहीं है। पुलिस के अनुसार रात 3.11 बजे एक पी.सी.आर. पर उन्हें काल आया  तथा आरोपी को कार सहित तड़के 3.34 बजे पकड़ लिया गया। राष्ट्रीय महिला आयोग ने मामले पर दिल्ली पुलिस से रिपोर्ट मांगी है और आरोपी के विरुद्ध सख्त कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है। 

इस बीच दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष के साथ छेड़छाड़ और उन्हें कथित रूप से कार से घसीटे जाने की घटना पर टिप्पणी करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल से ‘कानून एवं व्यवस्था पर ध्यान देने’ का आग्रह किया है। हमारे देश में हमेशा से ही नारी सशक्तिकरण की बातें होती आई हैं और हमारे महापुरुषों ने नारी सशक्तिकरण के लिए बड़े-बड़े अभियान चलाए पर आज के हालात को देखते हुए लगता है कि लोग वो सभी शिक्षाएं भूल कर उलटे ही रास्ते पर चल पड़े हैं। अत: ऐसे लोगों को रास्ते पर लाने के लिए उनके विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई करने की ही आवश्यकता है।—विजय कुमार 

Related Story

Trending Topics

Pakistan
Lahore Qalandars

Karachi Kings

Match will be start at 12 Mar,2023 09:00 PM

img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!