मुकेश अंबानी को कड़ी टक्कर दे रहे गौतम अडानी....6.5 गुना तेजी से बढ़ी है उनकी दौलत

Edited By Seema Sharma, Updated: 16 Jun, 2022 09:59 AM

gautam adani giving tough competition to mukesh ambani

शेयर बाजार में तेजी के साथ ही अडानी ग्रुप की कंपनियों को सबसे ज्यादा लाभ हुआ है। छह महीने यानि नवंबर से अप्रैल, 2022 के दौरान विविध कारोबार से जुड़े समूह का मूल्यांकन 88.1 प्रतिशत उछलकर 17.6 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया।

बिजनेस डेस्क: शेयर बाजार में तेजी के साथ ही अडानी ग्रुप की कंपनियों को सबसे ज्यादा लाभ हुआ है। छह महीने यानि नवंबर से अप्रैल, 2022 के दौरान विविध कारोबार से जुड़े समूह का मूल्यांकन 88.1 प्रतिशत उछलकर 17.6 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया। इसकी तुलना में दिग्गज उद्योगपति मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज का मूल्य 13.4 प्रतिशत बढ़कर 18.87 लाख करोड़ रुपए रहा। इसके साथ कंपनी बरगंडी प्राइवेट हुरुन इंडिया की 500 की रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर बनी हुई है। आकड़ों के मुताबिक मुकेश अंबानी की तुलना में गौतम अडानी की कंपनियों का मूल्यांकन करीब 6.5 गुना तेजी से बढ़ा है।

 

तीसरे नंबर पर टीसीएस 
टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) सूची में 12.97 लाख करोड़ रुपए के मूल्यांकन के साथ तीसरे स्थान पर रही। हालांकि, उसका मूल्य इस दौरान 0.9 प्रतिशत घटा है। इसके बाद क्रमश: एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस और आईसीआईसीआई बैंक का स्थान रहा। रिपोर्ट के मुताबिक गौतम अडानी की अगुवाई वाली कंपनियों में अडानी ग्रीन एनर्जी का मूल्यांकन सबसे तेजी से 139 प्रतिशत बढ़कर 4.50 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया। इसके साथ कंपनी छठे स्थान पर आ गई जबकि छह महीने पहले 16वें स्थान पर थी।

 

अडानी ग्रुप की बाकी कंपनियों में भी ग्रोथ?
अडानी विल्मर इस दौरान करीब 190 प्रतिशत बढ़कर 66,427 करोड़ रुपए, अडानी पावर 157.8 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 66,185 करोड़ रुपए पहुंच गई। ग्रुप की कुल नौ कंपनियों का मूल्यांकन छह महीने के दौरान (नवंबर 2021 से अप्रैल 2022) 88.1 प्रतिशत बढ़कर 17.6 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया। इनकी 500 शीर्ष कंपनियों में हिस्सेदारी 7.6 प्रतिशत है।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!