सरकार ने एलआईसी के चेयरमैन का कार्यकाल एक साल बढ़ाया

Edited By jyoti choudhary, Updated: 31 Jan, 2022 12:17 PM

government extended the tenure of lic chairman by one year

सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के चेयरमैन एम आर कुमार का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा दिया है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। गौरतलब है कि एलआईसी का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी चल रही है। ऐसे में सरकार

नई दिल्लीः सरकार ने भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के चेयरमैन एम आर कुमार का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ा दिया है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। गौरतलब है कि एलआईसी का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी चल रही है। ऐसे में सरकार चाहती है कि आईपीओ प्रक्रिया सुगमता से पूरी हो जाए। विस्तार के बाद कुमार मार्च, 2023 तक एलआईसी के चेयरमैन पद पर रहेंगे। इसके साथ ही एलआईसी के प्रबंध निदेशक राज कुमार का कार्यकाल भी एक साल के लिए बढ़ाया गया है।

एलआईसी के चेयरमैन को दूसरी बार सेवा विस्तार दिया गया है। एलआईसी के प्रस्तावित आईपीओ के मद्देनजर उन्हें पिछले साल जून में पहली बार उन्हें नौ माह का विस्तार दिया गया था। सरकार बजट घोषणा के अनुरूप एलआईसी को चालू वित्त वर्ष में ही शेयर बाजार में सूचीबद्ध कराना चाहती है। 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले साल अपने बजट भाषण में कहा था कि बीमा क्षेत्र की दिग्गज कंपनी का आईपीओ 2021-22 में आएगा। सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश से 1.75 लाख करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। विनिवेश लक्ष्य को पाने की दृष्टि से एलआईसी का आईपीओ काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। सरकार के पास एलआईसी की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी है। एक बार सूचीबद्ध होने के बाद एलआईसी बाजार पूंजीकरण के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी हो जाएगी। इसका बाजार मूल्यांकन आठ से 10 लाख करोड़ रुपए रहने का अनुमान है। 

इस बीच, सरकार ने सूचीबद्धता के लिए एलआईसी की अधिकृत पूंजी को उल्लेखनीय रूप से 100 करोड़ रुपए से बढ़ाकर 25,000 करोड़ रुपए कर दिया है। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!