Paytm को फिर घाटा, दिसंबर तिमाही में कंपनी का लॉस बढ़कर 778 करोड़ रुपए हुआ

Edited By jyoti choudhary, Updated: 05 Feb, 2022 10:19 AM

paytm s loss again the company s loss increased to rs 778 crore

पेमेंट कंपनी Paytm का लॉस दिसंबर तिमाही में बढ़ गया है। 31 दिसंबर 2021 को खत्म तिमाही में Paytm का कंसॉलिडेटेड लॉस बढ़कर 778 करोड़ रुपए पहुंच गया है। पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी का लॉस 532 करोड़ रुपए का था। हालांकि तिमाही-दर-तिमाही आधार पर...

नई दिल्लीः पेमेंट कंपनी Paytm का लॉस दिसंबर तिमाही में बढ़ गया है। 31 दिसंबर 2021 को खत्म तिमाही में Paytm का कंसॉलिडेटेड लॉस बढ़कर 778 करोड़ रुपए पहुंच गया है। पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी का लॉस 532 करोड़ रुपए का था। हालांकि तिमाही-दर-तिमाही आधार पर देखें तो सितंबर 2021 तिमाही में Paytm का लॉस 482 करोड़ रुपए था। शुक्रवार 4 फरवरी को Paytm के शेयर 0.89% बढ़कर 952.90 रुपए पर बंद हुए थे।

दिसंबर 2021 तिमाही में Paytm को कामकाज से होने वाली आमदनी में अच्छा इजाफा देखने को मिला है। कंपनी का रेवेन्यू 89% बढ़कर 1456 करोड़ रुपए रही। रेवेन्यू ग्रोथ में सबसे बड़ी वजह MDR वाले इंस्ट्रूमेंट्स के जरिए होने वाले मर्चेंट पेमेंट्स, नए डिवाइस सब्सक्रिप्शंस और लोन डिस्बर्समेंट रही है। पिछले साल की इसी तिमाही में Paytm का रेवेन्यू 772 करोड़ रुपए था।

शुक्रवार देर रात कंपनी के नतीजे आए हैं। Paytm ने कहा कि उसके पास नेट कैश, कैश इक्विवैलेंट और 10,215 करोड़ रुपए का इनवेस्टेबल बैलेंस है।

Paytm का ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू (GMV) साल-दर-साल आधार पर 123% बढ़कर 2.5 लाख करोड़ रुपए पहुंच गया है। इस ग्रोथ की वजह ऑफलाइन मर्चेंट बेस, यूजर एंगेजमेंट बढ़ने और फेस्टिव सीजन रहा है। GMV से किसी फिनटेक कंपनी के बिजनेस का अंदाजा लगाया जाता है। GMV के मायने हैं कि उस दौरान Paytm के प्लेटफॉर्म पर मर्चेंट्स ने कितना ट्रांजैक्शन किया है।

Trending Topics

Test Innings
England

India

86/4

India are 86 for 4

RR 3.28
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!