SBI 406 करोड़ रुपए के बकाया की वसूली को छह एनपीए खाते बेचेगा

Edited By jyoti choudhary,Updated: 06 Feb, 2022 12:39 PM

sbi to sell six npa accounts to recover dues of rs 406 crore

देश का सबसे बड़ा ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) करीब 406 करोड़ रुपए के बकाया की वसूली को छह गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) खातों की संपत्ति पुनर्गठन कंपनियों (एआरसी) को बिक्री की तैयारी कर रहा है। एसबीआई जिन खातों को बेचने की तैयारी कर रहा है...

नई दिल्लीः देश का सबसे बड़ा ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) करीब 406 करोड़ रुपए के बकाया की वसूली को छह गैर-निष्पादित आस्तियां (एनपीए) खातों की संपत्ति पुनर्गठन कंपनियों (एआरसी) को बिक्री की तैयारी कर रहा है। एसबीआई जिन खातों को बेचने की तैयारी कर रहा है उनमें पटना बक्तियारपुर टोलवे (230.66 करोड़ रुपए का बकाया), स्टीलको गुजरात लि. (68.31 करोड़ रुपए का बकाया), जीओएल ऑफशोर लि. (50.75 करोड़ रुपए का बकाया), आंध्रा फेरो अलॉयज (26.73 करोड़ रुपए का बकाया), गुरु आशीष टैक्सफैब (17.07 करोड़ रुपए का बकाया) और जेनिक्स ऑटोमेशंस प्राइवेट लि. (12.23 करोड़ रुपए का बकाया) शामिल हैं। 

एसबीआई की ओर से इन संपत्तियों की बिक्री के लिए निकाले गए नोटिस में कहा गया है कि नियामकीय दिशानिर्देशों के अनुरूप हम इन खातों को एआरसी/बैंक/एनबीएफसी/एफआई को बिक्री के लिए रख रहे हैं।

पटना बक्तियारपुर टोलवे के खाते की ई-नीलामी 23 फरवरी को होगी। जीओएल ऑफशोर की नीलामी 21 फरवरी को, जेनिक्स ऑटोमेशंस और गुरु आशीर्ष टेक्सफैब की नीलामी 15 फरवरी को, स्टीलको गुजरात और आंध्रा फेरो अलॉयज की नीलामी चार मार्च को की जाएगी। 
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!