कोविड केस बढऩे के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने लिया स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों का जायजा

Edited By Ajay Chandigarh,Updated: 04 Aug, 2022 08:19 PM

there is also a need to start a massive campaign against dengue

कोविड-19 के मामलों में हाल ही में हुई वृद्धि के मद्देनजर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज कोविड महामारी की किसी भी नई लहर का मुकाबला करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों का जायजा लिया। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए...

चंडीगढ़,(अश्वनी कुमार): कोविड-19 के मामलों में हाल ही में हुई वृद्धि के मद्देनजर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज कोविड महामारी की किसी भी नई लहर का मुकाबला करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों का जायजा लिया। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने विभाग को महामारी की रोकथाम के लिए अपेक्षित ऐहतियात बरतने संबंधी लोगों को सचेत करने के लिए तुरंत विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि लोगों को कोविड-19 महामारी के प्रभाव से बचाने को यकीनी बनाना समय की जरूरत है। विभाग को किसी भी तरह की स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता तैयारी कर लेनी चाहिए। मीटिंग के दौरान भगवंत मान ने महामारी के साथ कारगर ढंग से निपटने के लिए विभाग की तैयारियों की समीक्षा की। 

 


मुख्यमंत्री ने मलेरिया और डेंगू जैसी बरसाती मौसम वाली बीमारियों से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से किए गए प्रबंधों का जायजा भी लिया। उन्होंने विभाग को इन बीमारियों से निपटने के लिए उचित मात्रा में दवाएं और अन्य साजोसामान के व्यवस्था यकीनी बनाने के लिए कहा। भगवंत मान ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग को मच्छरों के प्रजनन को रोकने के लिए अन्य विभागों के साथ भी तालमेल करना चाहिए। 

 


बड़े स्तर पर जागरूकता मुहिम की जरूरत पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड, डेंगू और मलेरिया से बचाव संबंधी लोगों को अवगत करवाने के लिए यह मुहिम बहुत मददगार होगी। उन्होंने कहा कि लोगों को अपनी सुरक्षा के लिए अधिक से अधिक ऐहतियात बरतने के लिए जागरूक करने के लिए यह समय की जरूरत है। उन्होंने कहा कि गैर-सरकारी संगठनों और आम लोगों के सहयोग से इस दिशा में हरसंभव कदम उठाया जाएगा। 

 


अन्य मुद्दों संबंधी बात करते हुए मुख्यमंत्री ने विभाग को एस.ए.एस. नगर (मोहाली) में पंजाब इंस्टीच्यूट ऑफ लीवर और बाइलरी साइंसिज स्थापित करने के काम में तेजी लाने के लिए कहा। उन्होंने अधिकारियों को यह भी यकीनी बनाने के लिए कहा कि इस प्रतिष्ठित प्रोजैक्ट का काम दिसम्बर, 2022 तक मुकम्मल होना यकीनी बनाया जाए। उन्होंने उम्मीद जताई की कि यह प्रोजैक्ट लोगों को सस्ती दरों पर मानक स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करेगा।

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!