सत्य बोलना ही रामकथा का सारांश : दत्तात्रेय

Edited By Jyoti, Updated: 31 May, 2022 11:30 AM

75th amrit mahotsav

ऋषिकेष: 75 वें अमृत महोत्वस के अवसर पर परमार्थ निकेतन में पर्यावरण, नदियों और मां गंगा को समर्पित मानस कथा में परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती और हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने हिस्सा लिया।

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
ऋषिकेष:
 75 वें अमृत महोत्वस के अवसर पर परमार्थ निकेतन में पर्यावरण, नदियों और मां गंगा को समर्पित मानस कथा में परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती और हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने हिस्सा लिया। हिंदी पत्रकारिता दिवस के मौके पर हो रही राम कथा के मंच से बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि सत्य बोलना ही रामकथा का सारांश है। 

परमार्थ निकेतन में बड़ी संख्या में माताओं को श्रीराम कथा का श्रवण करते देख हरियाणा के राज्यपाल ने कहा कि माताएं राम कथा का श्रवण कर रही हैं तो विश्वास है कि हर घर में श्रीराम का जन्म होगा। उन्होंने प्रकृति और पर्यावरण की रक्षा के लिए चिदानन्द सरस्वती और परमार्थ निकेतन की सेवाओं की सराहना की। 

परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने हरियाणा के राज्यपाल का स्वागत करते हुए आज की युवा पीढ़ी से आह्वान किया कि भगवान राम और कृष्ण के संदेशों को लेकर आगे बढ़ते रहे तो धरती पर शान्ति, समन्वय और सद्भाव स्थापित होगा।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!