Bada Mangal 2022: तमाम प्रकार के वैभव प्राप्त करने के लिए आज करें ये काम

Edited By Niyati Bhandari, Updated: 14 Jun, 2022 07:34 AM

bada mangal

आज ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि और अंतिम बड़ा मंगलवार है। इस दिन अखंड सौभाग्य प्रदान करने वाला वट पूर्णिमा व्रत रखने का भी विधान है। राहुकाल दोपहर 03:51 से लेकर शाम 05:35 तक

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Bada Mangal 2022 Last Budhava Mangal: आज ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि और अंतिम बड़ा मंगलवार है। इस दिन अखंड सौभाग्य प्रदान करने वाला वट पूर्णिमा व्रत रखने का भी विधान है। राहुकाल दोपहर 03:51 से लेकर शाम 05:35 तक रहेगा। प्रात: 9:40 तक साध्य योग रहेगा तत्पश्चात शुभ योग का आरंभ होगा। जो सुबह 11:53 से शुरु होकर दोपहर 12:49 तक रहेगा। ये दोनों योग मंगल कार्य करने के लिए बहुत ही उत्तम हैं। हर तरह की सुख-संपत्ती प्राप्त करने के लिए कुछ खास उपाय करें, जिससे ‘हनुमंत कृपा योग’ बनेगा और तमाम प्रकार के वैभव प्राप्त होंगे।

PunjabKesari Bada Mangal

सुबह के समय हनुमान जी को प्रसाद के रूप में गुड़, नारियल, लड्डू चढ़ाया जाना चाहिए।

हनुमान जी की तीन परिक्रमा करें। दोपहर में बजरंगबली को गुड़, घी, गेहूं के आटे से बनी रोटी के चूरमे का भोग लगाना ज्यादा शुभ रहता है।

हनुमान जी को शाम के समय फल जैसे आम, केले, अमरूद आदि फलों का भोग लगाना चाहिए।

सुंदरकांड का पाठ करते समय हनुमान जी को सिंदूर, चमेली का तेल और अन्य पूजन सामग्री भी अर्पित करनी चाहिए।

PunjabKesari Bada Mangal

हनुमान जी का चोला चढ़ाते समय तिल के तेल या चमेली के तेल में मिला हुआ सिंदूर प्रतिमा पर लगाना चाहिए।

हनुमान जी को लाल या पीले रंग के फूल विशेष रूप से अर्पित करने चाहिएं। इन फूलों में कमल, गेंदा, गुलाब आदि का विशेष महत्व है।

हनुमान जी की पूजा या मंदिर में शुद्धता एवं पवित्रता का विशेष ध्यान रखना चाहिए। 

हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद राम रक्षा स्तोत्र का पाठ अवश्य करें। 

PunjabKesari Bada Mangal

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!