13 अक्टूबर को ज़रूर करें ये 1 काम ,खुशियों से भर जाएगा जीवन

Edited By Jyoti,Updated: 07 Oct, 2022 02:03 PM

karwa chauth

इस वर्ष करवाचौथ का व्रत 13 अक्टूबर को दिन गुरुवार को पड़ रहा है। माना जाता है प्रत्येक सुहागिन महिला के लिए ये व्रत बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस दिन  विवाहित महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए पूरा दिन निर्जला व्रत करती हैं। तो वहीं अविवाहित लड़कियां

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
इस वर्ष करवाचौथ का व्रत 13 अक्टूबर को दिन गुरुवार को पड़ रहा है। माना जाता है प्रत्येक सुहागिन महिला के लिए ये व्रत बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस दिन  विवाहित महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए पूरा दिन निर्जला व्रत करती हैं। तो वहीं अविवाहित लड़कियां सुंदर व सुयोग्य वर पाने के लिए व्रत करती हैं। इस बार के व्रत की बात करें तो माना जा रहा है कि इस साल करवाचौथ की तो ज्योतिष विशेषज्ञों द्वारा बताया जा रहा है कि इस दिन कई तरह के शुभ संयोग बन रहे हैं, जो बेहद शुभ माने जा रहे हैं। बताया जा रहा है मान्यता है इस संयोग में किए गए हर काम, व्रत, पूजा का दौगुना फल प्राप्त होता है। तो आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे कुछ कामों के ही बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें इन शु योग के द्वारा करने से जीवन सुख-समृद्धि से भर जाता है। अतः आइए जानते हैं क्या है वो काम मगर सबसे पहले जानते है करवाचौथ के पूजा के शुभ मुहूर्त, चंद्रदोय का समय व इस दिन बनने वाले शुभ संयोग के बारे में भी पूरी जानकारी। 
PunjabKesari Karwa Chauth 2022, Karwa Chauth 2022 Date, Karwa Chauth 2022 Shubh Muhurat, Karwa Chauth 2022 Niyam, Karwa Chauth Pujan Vidhi, Karwa Chauth Chandrauday Ka Samay, Kartik Mass, Kartik Mass Karwa Chauth, Karwa Chauth Puja, Dharm
हिंदू पंचांग के अनुसार चतुर्थी तिथि का आरंभ 13 अक्टूबर को सुबह 01 बजकर 59 मिनट पर होगा। और अगले दिन 14 अक्टूबर को सुबह 03 बजकर 08 मिनट पर इसका समापन हो जाएगा। तो वहीं करवा चौथ व्रत समय सुबह 06 बजकर 20 मिनट से रात 08 बजकर 09 मिनट तक रहेगा। इसके अलावा करवाचौथ पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 05 बजकर 54 मिनट से रात 07 बजकर 09 मिनट तक रहेगा। इस दिन रात 08 बजकर 09 मिनट पर चंद्रोदय का समय रहेगा।  

करवाचौथ पर बन रहे हैं ये शुभ संयोग- 
ज्योतिष गणना के अनुसार करवाचौथ पर सिद्धि योग बन रहा है जो कि 01 बजकर 55 मिनट तक रहेगा। इसी के साथ इस दिन शाम 06 बजकर 41 तक कृत्तिका नक्षत्र रहेगा। और उसके बाद रोहिणी नक्षत्र शुरू हो जाएगा। इसके अलावा शास्त्रों के अनुसार करवाचौथ के दिन चंद्रमा अपनी उच्च राशि वृष में रहेंगे। चूंकि इस दिन चंद्रमा की पूजा की जाती है और अर्घ्य दिया जाता है तो इस दिन चंद्रमा का वृष राशि में होना और इस दिन रोहिणी नक्षत्र का होना बहुत शुभ माना जाता है। मान्यता है कि ग्रह नक्षत्रों के इस खास संयोग में की गई पूजा बहुत फलदायी होती है।
PunjabKesari Karwa Chauth 2022, Karwa Chauth 2022 Date, Karwa Chauth 2022 Shubh Muhurat, Karwa Chauth 2022 Niyam, Karwa Chauth Pujan Vidhi, Karwa Chauth Chandrauday Ka Samay, Kartik Mass, Kartik Mass Karwa Chauth, Karwa Chauth Puja, Dharm
1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें
PunjabKesari
करवाचौथ के दिन क्या करना चाहिए-
करवाचौथ के दिन मां पार्वती को श्रृंगार का सामान अर्पित करना चाहिए। ऐसा करने से मां प्रसन्न होकर आपका दांपत्य जीवन खुशियों से भर देती है। 

करवा चौथ के दिन सुहागिनों के लिए श्री सूक्त का पाठ करना बेहद शुभ फलदायक रहता है और पुरुषों को विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। इससे पति पत्नी के बीच सौहार्द और प्रेम बना रहता है।
PunjabKesari Sri sukat Path, श्री सूक्त पाठ
बता दें कि यह व्रत सुबह सूर्योदय से शुरू होता है और शाम को चांद निकलने तक रखा जाता है। शाम को चांद का दीदार करके अर्घ्य अर्पित करने के बाद पति के हाथ से पानी पीकर महिलाएं अपना व्रत तोड़ती हैं। इस दिन महिलाएं चौथ माता यानि कि माता पार्वती की पूजा करके अपने पति की लंबी उम्र की कामना करती है।
 

Pakistan

137/8

20.0

England

138/5

19.0

England win by 5 wickets

RR 6.85
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!