कड़वे प्रवचन...लेकिन सच्चे बोल: ऐसे लोगों का भाग्य सदा के लिए सो जाता है

Edited By Niyati Bhandari,Updated: 12 Dec, 2021 01:59 PM

muni shri tarun sagar

देर तक सोए रहना दरिद्रता का कारण है प्रथम प्रहर में सारी दुनिया जागती है। दूसरे प्रहर में भोगी जागता है। तीसरे प्रहर में चोर जागता है और अंतिम प्रहर में योगी जागता है। जो अंतिम प्रहर

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

देर तक सोए रहना दरिद्रता का कारण है
प्रथम प्रहर में सारी दुनिया जागती है। दूसरे प्रहर में भोगी जागता है। तीसरे प्रहर में चोर जागता है और अंतिम प्रहर में योगी जागता है। जो अंतिम प्रहर में नहीं जागता है, उसे धिक्कार है। देर से सोना, देर तक सोए रहना दरिद्रता का कारण है। जल्दी सोना, जल्दी उठना अच्छी हैल्थ और वैल्थ के कारण हैं। जो हर रोज उगते सूरज को देखते हैं, उनका पूरा दिन उगा हुआ रहता है। जो सूर्योदय के बाद भी सोए पड़े रहते हैं। उसका भाग्य भी सो जाता है। सच बताना! कितने दिनों से आपने उगता सूरज नहीं देखा? याद नहीं न। चलिए। संकल्प करिए कल सूर्योदय से पहले उठेंगे, उगता सूरज देखेंगे और सूरज-सा चमकेंगे।

PunjabKesari Muni Shri Tarun Sagar

36 का आंकड़ा
गायक और वादक में तालमेल होना चाहिए। दोनों में तालमेल होगा तो संगीत में रस आएगा, मन झूम उठेगा। तालमेल नहीं होगा तो संगीत महज शोरगुल बनकर रह जाएगा। सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए पति-पत्नी में भी तालमेल जरूरी है। दोनों के स्वभाव, विचार और पसंद में सामंजस्य जरूरी है। अगर इनमें 36 का आंकड़ा रहा तो घर में महाभारत अवश्यंभावी है। पति-पत्नी का स्वभाव पानी की तरह हो जो हर जगह घुल-मिल जाए।

PunjabKesari Muni Shri Tarun Sagar
संसार मकड़जाल है
लड़की जब तक कुंवारी है तभी तक वह स्वतंत्र व सुखी है। विवाह होते ही वह आफतों में पड़ जाती है। मां बनने के बाद तो उसका सुख-चैन समझो खो ही जाता है। संसार मकडज़ाल है। इसमें एक बार फंसे कि गए काम से। यह ऐसा दलदल है जिसमें से निकलने की ज्यों-ज्यों कोशिश करें त्यों-त्यों धंसते जाते हैं। इसमें न धंसने का एक ही उपाय है। इसमें न फंसना।

- मुनि तरुण सागर जी

PunjabKesari Muni Shri Tarun Sagar

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!