Nirjala Ekadashi: पांडव एकादशी पर धन लाभ के साथ पूरी करें मनोकामनाएं

Edited By Niyati Bhandari, Updated: 10 Jun, 2022 07:51 AM

nirjla ekadashi

निर्जला एकादशी का बहुत महत्व है क्योंकि इस एक एकादशी के व्रत से व्यक्ति को पूरे साल की एकादशियों के पुण्य जितने फल की प्राप्ति होती है। निर्जला एकादशी को पांडव एकादशी या भीमसेन एकादशी के नाम से भी जाना जाता है।

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Nirjala Ekadashi 2022: निर्जला एकादशी का बहुत महत्व है क्योंकि इस एक एकादशी के व्रत से व्यक्ति को पूरे साल की एकादशियों के पुण्य जितने फल की प्राप्ति होती है। निर्जला एकादशी को पांडव एकादशी या भीमसेन एकादशी के नाम से भी जाना जाता है। इस व्रत से व्यक्ति को दीर्घायु और मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस दिन सुबह शीघ्र उठकर स्नानादि कार्यों से निवृत्त होकर भगवान विष्‍णु का ध्यान लगाकर व्रत का संकल्प लें और मंदिर जाएं। भगवान विष्‍णु की आराधना करें और पूजा अर्चना करें। इस दिन गरीबों को दान दक्षिणा देना न भूलें। अगले दिन सुबह स्नानादि के बाद पूजा करने के उपरांत व्रत को खोलें। निर्जला एकादशी पर करें ये उपाय-

PunjabKesari Nirjala Ekadashi

Nirjala ekadashi upay : धन की इच्छा रखने वाले मां लक्ष्मी के साथ श्री हरि विष्णु का पूजन करें। 

गाय का कच्चा दूध और केसर मिलाकर बाल गोपाल का अभिषेक करें।

सूर्यास्त के बाद तुलसी पर गाय के शुद्ध घी का दीपदान करें और चार परिक्रमा करें।

PunjabKesari Nirjala Ekadashi

एकादशी के दिन सुबह पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं और चार परिक्रमा करें।

भगवान श्री कृष्ण को तुलसी की माला अपने हाथों से पहनाएं। 

PunjabKesari Nirjala Ekadashi

Nirjala ekadashi daan: दान- इस व्रत में अपनी सामर्थ्यानुसार अन्न, जल, वस्त्र, छतरी, जल से भरा मिट्टी का कलश, सुराही तथा किसी भी धातु से बना जल का पात्र, हाथ का पंखा, बिजली का पंखा, शर्बत की बोतलें, आम, खरबूजा, तरबूज तथा अन्य मौसम के फल आदि का दान दक्षिणा सहित देने का शास्त्रानुसार विधान है। 

PunjabKesari Nirjala Ekadashi

Nirjala Ekadashi 2022 Daan: इसके अतिरिक्त राहगीरों के लिए किसी भी सार्वजनिक स्थान पर ठंडे एवं मीठे जल की छबील, प्याऊ लगाना तथा लंगर आदि लगाना अति पुण्यफलदायक है। व्रत का पारण ब्राह्मणों को यथाशक्ति मिठाई, अन्न, वस्त्र, स्वर्ण, चप्पल व गाय आदि वस्तुएं दक्षिणा सहित दान देने के पश्चात ही किया जाना चाहिए। यह व्रत इस बार सोमवार को है इसलिए सफेद वस्तुओं का दान करना अति उत्तम है।

PunjabKesari Nirjala Ekadashi
 

 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!