Numerology: 2023 में क्रिकेट को अलविदा कह देंगे कोहली, पढ़ें चौंकाने वाले खुलासे !

Edited By Niyati Bhandari,Updated: 14 Jul, 2022 08:49 AM

numerology virat kohli

पिछले लगभग डेढ़ साल से भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली अपनी फॉर्म को लेकर जूझ रहे हैं। टेस्ट, वनडे या टी-20, तीनों ही फॉर्मेट में विराट का बल्ला खामोश बना

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ

Numerology: पिछले लगभग डेढ़ साल से भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली अपनी फॉर्म को लेकर जूझ रहे हैं। टेस्ट, वनडे या टी-20, तीनों ही फॉर्मेट में विराट का बल्ला खामोश बना हुआ है। आलम ये है कि पिछली 75 पारियों में कोहली के बल्ले से एक भी शतक नहीं निकला है। वहीं इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम में हुए 5वें टेस्ट में वह दोनों पारियों में सस्ते में ही निपट गए। इसके बाद विराट के करियर को लेकर सवालिया निशान खड़े होने लगे हैं। हाल ही में वेस्टइंडीज दौरे के लिए घोषित टीम इंडिया के प्लेइंग स्क्वाड से भी उन्हें अलग रखा गया है।

इस बीच मशहूर न्यूमरोलॉजिस्ट जेपी तोलानी जी ने भी विराट को लेकर चौंकाने वाली घोषणा की है। तोलानी जी के मुताबिक कोहली के नंबर्स अगले साल जुलाई-अगस्त के दौरान उनके क्रिकेट से रिटायरमेंट की तरफ इशारा कर रहे हैं यानी अंक ज्योतिष के नज़रिये से देखें तो किंग कोहली 2023 के मध्य में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले सकते हैं।

PunjabKesari numerology virat kohli

नंबर्स कर रहे सन्यास की ओर इशारा
न्यूमरोलॉजी में बर्थ नंबर, डेस्टिनी नंबर, फर्स्ट नेम नंबर और फुल नेम नंबर का विशेष महत्व होता है और इसी के आधार पर व्यक्ति विशेष के भविष्यफल की गणना की जाती है। जेपी तोलानी जी के मुताबिक, विराट कोहली की जन्म तिथि 05/11/1988 है, इसके अनुसार उनका बर्थ नंबर 5 और डेस्टिनी नंबर 33 यानी 6 प्राप्त होता है। इसके अलावा उनका फर्स्ट नेम नंबर 14 यानी 5 और फुल नेम नंबर 32 यानी 5 ही प्राप्त होता है। इस लिहाज से देखें तो कोहली के पास 3,4,5,6,7 नंबर्स का कॉम्बिनेशन है, जिसे सबसे अच्छे कॉम्बिनेशंस में से एक माना जाता है।

तोलानी जी की गणना के अनुसार, चूंकि कोहली का डेस्टिनी नंबर 33/6 है और उनका फर्स्ट नेम अल्फाबेट भी 6 पर है इसलिए उन्होंने 33 वर्ष की आयु तक निरंतर ग्रोथ बनाकर रखी थी। साथ ही उनके नाम में 4,5,6,7 का एक मजबूत कॉम्बिनेशन भी है, जो उनके धन, प्रसिद्धि, बुद्धि और लग्जरी लाइफस्टाइल को दर्शाता है। यही वजह है कि उनके नंबर्स के कॉम्बिनेशन ने उन्हें जीवन में सब कुछ दिया है। इसके आलावा कोहली अपने बर्थ नंबर (5), फर्स्ट नेम नंबर (14) और फुल नेम नंबर (32) के रूप में नंबर 5 से भी प्रभावित होने के कारण बहुत आवेगी और आक्रामक भी है।

PunjabKesari numerology virat kohli

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

क्यों फॉर्म से बाहर चल रहे कोहली ?
मार्च 2020 (भारत-न्यूजीलैंड टूर) के बाद से ही कोहली आउट ऑफ़ फॉर्म चल रहे हैं। तोलानी जी के मुताबिक, चूंकि उस समय कोहली 32/5 की उम्र में थे और नंबर 5 के चक्र के तहत वह अपनी फॉर्म में निरंतरता को बरक़रार नहीं रख सके और नंबर 5 ने उनकी परफॉरमेंस को सबसे अधिक प्रभावित किया है।

लेकिन फिर से, नवंबर 2020 (भारत-ऑस्ट्रेलिया टूर) में 33/6 की उम्र में जो कि उनका डेस्टिनी नंबर भी था और इस कारण वह टूर्नामेंट के सबसे बड़े स्कोरर भी बने थे। 33/6 वर्ष की आयु में उनका डेस्टिनी नंबर शामिल होने के कारण, उन्हें एक बच्ची का आशीर्वाद प्राप्त हुआ था। साथ ही सर गारफील्ड सोबर्स अवार्ड और मेल एंड ओडीआई क्रिकेटर ऑफ़ द डिकेड का अवार्ड भी जीता था।

इसके बाद से 2022 में भी उनका खराब फॉर्म जारी रहा है। तोलानी जी के मुताबिक, क्योंकि वह मौजूदा वर्ष में 34/7 साल की उम्र में चल रहे हैं और 3, 4 और 7 का कॉम्बिनेशन 6 के सपोर्ट के बिना अच्छा नहीं माना जाता है इसलिए वह बेहतर फॉर्म में वापसी करने में असफल रहे हैं, साथ ही सातवें नंबर की वजह से उन्हें सभी प्रारूपों से कप्तानी भी छोड़नी पड़ी है। हालांकि यह कॉम्बिनेशन डिजिटल प्रजेंस के लिए अच्छा है और इसके परिणामस्वरूप उन्होंने डिजिटल चैनल पर बहुत अधिक सपोर्ट प्राप्त करने के साथ 200 मिलियन से अधिक फॉलोवर्स इकठ्ठा किये हैं।

कोहली के लिए अगला विकल्प क्या है ?
नवंबर 2022 में वह 35/8 की उम्र में प्रवेश करेंगे और 8 एक ऐसा नंबर है जो उनके दूसरे नंबर्स में, दर्द और हानि के संकेत दे रहा है इसलिए उन्हें क्रिकेट छोड़ने और अन्य क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है। 2023 में अप्रैल से नवंबर के बीच वह क्रिकेट को अलविदा कहने के लिए आगे आ सकते हैं। तोलानी जी के अनुसार उनके नंबर्स की गणना से पता चलता है कि वह कोच या कमेंटेटर के रूप में अपनी अगली पारी की शुरुआत नहीं करेंगे बल्कि वह खेल के अन्य क्षेत्रों जैसे सेलेक्टर्स/ बोर्ड मेंबर्स आदि पर ध्यान केंद्रित करेंगे।

PunjabKesari

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!