श्रावण मास में आप भी जरूर करें मोरपंख से जुड़े उपाय, बेहद हैं असरदार

Edited By Jyoti,Updated: 19 Jul, 2022 03:24 PM

sawan upay related to morpankh

इतना तो सब जानते ही हैं कि श्रावण माम में मुख्य रूप से शिव जी की पूजा की जाती है, इसी के चलते हर कोई इस दौरान शिव शंकर को प्रसन्न करने में जुटा दिखाई देता है। परंतु क्या आप जानते हैं कि इस मास में श्री कृष्ण की उपसना करने से भी शुभ फलों की प्राप्ति...

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
इतना तो सब जानते ही हैं कि श्रावण माम में मुख्य रूप से शिव जी की पूजा की जाती है, इसी के चलते हर कोई इस दौरान शिव शंकर को प्रसन्न करने में जुटा दिखाई देता है। परंतु क्या आप जानते हैं कि इस मास में श्री कृष्ण की उपसना करने से भी शुभ फलों की प्राप्ति होती है। जी हां, बहुत कम लोग जानते हैं श्रावण में श्री कृष्ण की पूजा भी की जा सकती है। बल्कि ज्योतिष व वास्तु शास्त्र में तो श्रावण मास के दौरान किए जाने वाले श्री कृष्ण से जुड़े उपाय भी वर्णित है। तो आज हम आपको श्रावण मास में किए जाने वाले श्री कृष्ण से ही संबंधित कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। ज्योतिष व वास्तु विशेषज्ञों का मानना है कि इन उपायों को करने वाला व्यक्ति न केवल श्री कृष्ण को प्रसन्न करने में सफल होता है बल्कि अपने जीवन की कई बड़ी-बड़ी मुश्किलों से निजात पा सकता है। तो आइए जानते हैं श्रावण मास में किए जाने वाले ये खास उपाय जो आपकी समस्याओं को पलों में दूर कर सकते हैं। सावन में भगवान श्री कृष्ण की पूजा का भी विधान है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन में श्रीकृष्ण की प्रिय वस्तु मोरपंख के उपाय करने से बड़ी मुश्किलों से भी निजात पाई जा सकती है। 
PunjabKesari Sawan, Sawan 2022, Sawan Morpankh Upay, Sawan Sri Krishan, Sawan Sri Krishan Worship Importance, Sawan Upay Related to Morpankh, Peacock feather, Morpankh Totke, Sawan Upay, Sawan Remedies, Dharm
हिंदू धर्म के ग्रंथों में किए वर्णन के अनुसार श्रावण मास को श्री कृष्ण से जोड़कर देखा जाता। ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि सावन में श्रीकृष्ण की प्रिय वस्तु मोरपंख के उपाय करने से मानव के जीवन से जुड़ी बड़ी से बड़ी मुश्किल का हल निकल आता है।  आइए जानते हैं क्या है इससे जुड़े उपाय-

अगर किसी व्यक्ति के जीवन में धन से जुड़ी परेशानी चल रही हो उस जातक को राधा-कृष्ण मंदिर में एक मोरपंख को स्थापित करके लगातार 40 दिन तक इसकी पूजा करके बाद में इसे अपने तिजोरी आदि में रख लेना चाहिए। ऐसा माना जाता है इस उपाय को करने से धन से संबंधित सारी समस्याएं दूर हो जाती हैं। 
PunjabKesari Sawan, Sawan 2022, Sawan Morpankh Upay, Sawan Sri Krishan, Sawan Sri Krishan Worship Importance, Sawan Upay Related to Morpankh, Peacock feather, Morpankh Totke, Sawan Upay, Sawan Remedies, Dharm

1100  रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

PunjabKesari

अपने शत्रुओं पर विजय पाने के लिए मंगलवार या शनिवार के दिन मोरपंख पर हनुमान जी के मस्तक का सिंदूर लेकर उससे शत्रु का नाम लिखकर, उसे रात भर घर के पूजा स्थल में रख दें और अगली सुबह इसे बहते पाने में प्रवाहित कर दें। इस बात का खास ध्यान रखएं कि ये उपाय गुप्त तरीके से करें। 

जिस किसी व्यक्ति को उसकी कुंडली के ग्रह दुष्प्रभाव दे रहे हो उसे इससे मुक्ति के लिए 21 बार उस ग्रह का मंत्र उच्चाकर, जिसकी स्थिति कुंडली में कमजोर हो, मोरपंख कर पानी के छिड़काव करके, इसे पूजा स्थल पर रख दें। ऐसा माना जाता है कि ये उपाय को करने के कुछ ही दिनमों में चमत्कारी परिणाम दिखने लगते हैं। 

PunjabKesari Sawan, Sawan 2022, Sawan Morpankh Upay, Sawan Sri Krishan, Sawan Sri Krishan Worship Importance, Sawan Upay Related to Morpankh, Peacock feather, Morpankh Totke, Sawan Upay, Sawan Remedies, Dharm
किसी नवजात बच्चे को बुरी नजर लग जाओ तो ऐसे में इससे छुटकारा पाने के लिए मोरपंख को चांदी की छोटी सी डिब्बी में डालकर बच्चे के सिरहाने रख दें।

जिस व्यक्ति की कुंडली में कालसर्प दोष हो तो उस व्यक्ति को अपने तकिए के कवल में 7 मोरपंख डालकर रखने चाहिए। माना जाता है ये उपाय करने से इस दोष से छुटकारा मिल जाता है। इस उपाय से जुड़ी एक धार्मिक किंवदंति के अनुसार श्री कृष्ण ने भी कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए अपने मुकुट में मोरपंख धारण किया हुआ था। 

(नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी की पंजाब केसरी पुष्टि नहीं करता, ये केवल धार्मिक व ज्योतिष मान्यताओं पर आधारित हैं। )
 

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!