Srimad Bhagavad Gita: पुराने शरीर को बदल लेती है ‘आत्मा’

Edited By Niyati Bhandari, Updated: 24 May, 2022 10:04 AM

srimad bhagavad gita

श्री कृष्ण कहते हैं कि आत्मा न मारती है और न मरती है। यह अजन्मी, शाश्वत, परिवर्तन हीन और प्राचीन है। आत्मा शरीर उसी तरह

शास्त्रों की बात, जानें धर्म के साथ
Srimad Bhagavad Gita: श्री कृष्ण कहते हैं कि आत्मा न मारती है और न मरती है। यह अजन्मी, शाश्वत, परिवर्तन हीन और प्राचीन है। आत्मा शरीर उसी तरह बदलती है, जैसे हम नए वस्त्र पहनने के लिए पुराने वस्त्रों को त्याग देते हैं। वैज्ञानिक दृष्टि में इसे ऊर्जा से जुड़े सिद्धांतों द्वारा अच्छी तरह समझा जा सकता है। आत्मा की तुलना ऊर्जा से करने पर भगवान कृष्ण के वचन स्पष्ट हो जाते हैं। 
ऊर्जा के संरक्षण का नियम कहता है कि ऊर्जा को कभी नष्ट नहीं किया जा सकता, केवल एक से दूसरे रूप में परिवर्तित किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, थर्मल पावर स्टेशन थर्मल ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करते हैं। 

PunjabKesari, Srimad Bhagavad Gita, srimad bhagavad gita in hindi

एक बल्ब बिजली को प्रकाश में बदलता है तो यह केवल रूपांतरण है और कोई विनाश नहीं है। बल्ब का जीवनकाल सीमित होता है। यह फ्यूज हो जाता है तो इसे एक नए बल्ब से बदल दिया जाता है, लेकिन बिजली अभी भी बनी हुई है। 

हमारे लिए मृत्यु अनुमानों के आधार पर निकाला गया एक निष्कर्ष है, अनुभव नहीं। हमारी समझ है कि हम सभी एक दिन मरेंगे और हम इसका अनुमान तब लगाते हैं जब हम दूसरों को मरते देखते हैं। हमारे लिए मृत्यु का अर्थ शरीर का खत्म होना और इंद्रियों का काम करना बंद कर देना है।

PunjabKesari, ​​​​​​​Srimad Bhagavad Gita, srimad bhagavad gita in hindi

हमारे पास अपने शरीर की मृत्यु के बारे में जानने या उसका अनुभव करने का कोई तरीका नहीं है, सिवाय इसके कि हम अनुमान लगाते हैं कि मृत्यु हम सभी के लिए निश्चित है। हमारा जीवन मृत्यु और उससे जुड़े भय के इर्द-गिर्द घूमता है।

कृष्ण कहते हैं कि सब कुछ संभव है लेकिन मृत्यु कोई संभावना नहीं है, यह केवल एक भ्रम है। जब कपड़े खराब हो जाते हैं, तो वे हमारी रक्षा नहीं कर सकते और हम उन्हें नए कपड़ों से बदल देते हैं। इसी तरह, जब हमारा भौतिक शरीर अपने कर्तव्यों का पालन करने में असमर्थ होता है, तो उसे बदल दिया जाता है।

PunjabKesari, ​​​​​​​Srimad Bhagavad Gita, srimad bhagavad gita in hindi

 

India

179/5

20.0

South Africa

131/10

19.1

India win by 48 runs

RR 8.95
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!