गिलगित बाल्टिस्तान में धार्मिक समूहों के बीच संघर्ष में 2 लोगों की मौत व 17 घायल

Edited By Tanuja,Updated: 01 Aug, 2022 05:12 PM

2 killed in clashes between two religious groups in gilgit baltistan

गिलगित बाल्टिस्तान क्षेत्र में इस्लामिक महीना मोहर्रम की शुरूआत के दौरान दो धार्मिक समूहों के बीच हुये टकराव में कम से कम दो लोगों की मौत हो...

इस्लामाबाद: गिलगित बाल्टिस्तान क्षेत्र में इस्लामिक महीना मोहर्रम की शुरूआत के दौरान दो धार्मिक समूहों के बीच हुये टकराव में कम से कम दो लोगों की मौत हो गयी जबकि 17 अन्य घायल हो गए। पाकिस्तानी मीडिया में सोमवार को आयी खबर से यह जानकारी मिली। समाचारपत्र ‘डॉन' की खबर के अनुसार गिलगित उपायुक्त कार्यालय के निकट यादगार चौक पर रविवार को यह घटना उस समय हुई जब गिलगित बाल्टिस्तान के एक शीर्ष शिया नेता मोहर्रम की शुरूआत के मौके पर खोमार चौक पर हजरत इमाम हुसैन का झंडा फहरा रहे थे।

 

खबर में पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा गया है, ‘‘मोहर्रम के महीने के शुरूआत के मौके पर गिलगित बाल्टिस्तान के शीर्ष शिया नेता अगा राहत हुसैन अल हुसैनी खोमार चौक पर हजरत इमाम हुसैन का अलाम (झंडा) लहरा रहे थे तभी दो समूहों के बीच यह झड़प हुयी।'' पुलिस के अनुसार इस झड़प में शिया समुदाय के दो लोगों की मौत हो गयी। खबर में कहा गया है, ‘‘वहां गोलीबारी भी हुयी, जिसमें 17 अन्य लोग घायल हो गये।

 

उन्हे उपचार के लिये पास के अस्पताल में ले जाया गया है।'' गृह सचिव इकबाल हुसैन खान ने बताया कि इस घटना में कथित रूप से शामिल 44 संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि गुप्तचर सूचना के आधार पर अन्य लोगों की गिरफ्तारी की जायेगी। गिलगित बाल्टिस्तान के मुख्यमंत्री खालिद खुर्शीद खान ने कहा कि मुठ्ठी भर लोग शहर की शांतिपूर्ण वातावरण को खराब करना चाहते हैं। उन्होंने लोगों से शांति बनाये रखने और सरकार के साथ सहयोग करने की अपील की।  

Related Story

Trending Topics

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!