ताइवान में  चीन के 29 लड़ाकू विमानों ने की घुसपैठ, मिला करारा जवाब

Edited By Tanuja, Updated: 23 Jun, 2022 04:48 PM

29 chinese military aircraft enter taiwan s air defence zone

यूक्रेन पर रूसी हमले का चीन खूब फायदा उठाने में लगा हुआ है।  यही वजह है कि पिछले 19 दिनों में 2 बार चीनी लड़ाकू विमानों ने ताइवान में घुसपैठ की...

ताइपे: यूक्रेन पर रूसी हमले का चीन खूब फायदा उठाने में लगा हुआ है।  यही वजह है कि पिछले 19 दिनों में 2 बार चीनी लड़ाकू विमानों ने ताइवान में घुसपैठ की है।  चीन ने बुधवार को अपने 29 लड़ाकू विमान ताइवान की तरफ भेजें   हालांकि, ताइवानी वायु सेना करारा जवाब देते हुए  चीनी लड़ाकू विमानों को अपनी हवाई सीमा से बाहर खदेड़ दिया।  चीन ताइवान के इलाके को खुद एयर डिफेंस आइडेंटिफिकेशन जोन घोषित कर दिया है। 

 

ताइवानी रक्षा मंत्रालय ने बताया कि उसके देश की वायु सेना ने चीन के 29 विमानों को चेतावनी देकर खदेड़ दिया।  मंत्रालय ने बताया कि इस घुसपैठ में चीनी वायु सेना के सात जे-10 लडाकू विमान, पांच जे-16 लड़ाकू विमान और एक वाई-8 इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेयर विमान शामिल था। इन विमानों ने दक्षिण चीन सागर में ताइवान के नियंत्रण वाले प्रतास द्वीपसमूह के पास से उड़ान भरी थी। बता दें कि अमेरिका कई बार आशंका जता चुका है कि चीन ताइवान पर हमला कर सकता है।अमेरिका ने यह भी खुला ऐलान कर दिया है कि अगर ऐसा होता है तो वह ताइवान की मदद के लिए सेना भेजेगा।

 

चीन की एक मानवाधिकार कार्यकर्ता ने दावा किया था कि एक ऑडियो क्लिप में चीन की गुप्त योजना कैद है।  उन्होंने 57 मिनट की एक ऑडियो क्लिप जारी की थी और दावा किया था कि इसमें चीन के टॉप सैन्य अधिकारी ताइवान पर हमले की बात कर रहे हैं। इस ऑडियो के सामने आने के बाद चीन ने इस बात से साफ इनकार कर दिया था। बताया जा रहा है कि पहली बार ऐसा हुआ था कि चीन का कोई प्लान इस तरह लीक हो गया था।   दरअसल चीन मानता है कि ताइवान उसका हिस्सा है, जिसका अंतत: फिर  चीन में विलय हो जाएगा।  दूसरी ओर, ताइवान ख़ुद को एक आज़ाद मुल्क मानता है। उसका अपना संविधान है और वहां लोगों द्वारा चुनी हुई सरकार का शासन है। 

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!