अफगानिस्‍तान के जलालाबाद एयरपोर्ट पर 2 दशक बाद शुरू हुईं नागरिक उड़ानें

Edited By Tanuja, Updated: 19 Jun, 2022 04:46 PM

after two decades afghan airport resumes civilian flights

अमेरिकी सेना और अन्य विदेशी सैनिकों के लिए एक अड्डे के रूप में सेवाएं देने वाले अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत के जलालाबाद हवाई अड्डे से नागरिक...

काबुल: अमेरिकी सेना और अन्य विदेशी सैनिकों के लिए एक अड्डे के रूप में सेवाएं देने वाले अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत के जलालाबाद हवाई अड्डे से नागरिक उड़ाने फिर से शुरू कर दी गई हैं।  तालिबान के नेतृत्व वाली सरकार के परिवहन और नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoTCA) के अनुसार हर हफ्ते तीन से चार उड़ानें होंगी। परिवहन और नागरिक उड्डयन उप मंत्री इमाम मोहम्मद वारीमाच ने कहा, 'नंगरहार हवाई अड्डे से नागरिक उड़ानों की बहाली एक अच्छा कदम है। यह पूर्वी प्रांतों लघमन, नूरिस्तान, कुनार और नंगरहार के लिए एक प्रमुख संसाधन है।'

 

MoTCA ने कहा कि वह एयरपोर्ट पर और सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास करेगा। मंत्रालय के प्रवक्ता इमामुद्दीन वारीमाच  ने कहा, 'इस्लामिक अमीरात के सत्ता में आने के साथ, हमने इस हवाई अड्डे को फिर से सक्रिय कर दिया है ।' व्यवसायियों ने नंगरहार प्रांत से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को फिर से शुरू करने का आह्वान करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानें देश की अर्थव्यवस्था की मदद कर सकती हैं। टोलो न्यूज ने एक व्यवसायी जाल्मय अजीमी के हवाले से कहा, 'मैं इस्लामिक अमीरात के अधिकारियों से इस हवाई अड्डे और हवाई-गलियारे से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की सुविधा के लिए बात करता हूं। इस प्रकार हम अफगानिस्तान से अपना माल निर्यात कर सकते हैं।'

 
 
इससे पहले, अमेरिकी सशस्त्र बलों और नागरिक ठेकेदारों द्वारा जलालाबाद हवाई अड्डे का भारी उपयोग किया जाता था। वे फारवर्ड ऑपरेटिंग बेस फेंटी  से संचालित होते थे। अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा सहायता बल (ISAF) और रेसोल्यूट सपोर्ट मिशन (आरएसएम) के सदस्यों ने भी हवाई अड्डे का इस्तेमाल किया।

Related Story

Trending Topics

Test Innings
England

India

134/5

India are 134 for 5

RR 3.72
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!