बाइडेन ने चीन के खिलाफ नए हिंद-प्रशांत समझौते का किया ऐलान, भारत-जापान समेत 13 देश शामिल

Edited By Tanuja, Updated: 23 May, 2022 12:39 PM

biden to lay out in japan who s joining new asia trade pact

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन  चीन पर नकेल कसने के लिए सोमवार को  जापान में नए हिंद-प्रशांत व्यापार समझौते  की शुरूआत कर दी...

 इंटरनेशनल डेस्कः अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन  चीन पर नकेल कसने के लिए सोमवार को  जापान में नए हिंद-प्रशांत व्यापार समझौते  की शुरूआत कर दी।  इस समझौते को हिंद-प्रशांत  क्षेत्र के लिए अमेरिका की प्रतिबद्धता का संकेत देने और महामारी एवं यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के कारण व्यापार में स्थिरता की आवश्यकता  के उद्देश्य से तैयार किया गया है।  क्वाड सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए जापान पहुंचे बाइडेन ने टोक्यो में इसकी घोषणा की। बाइडेन ने कहा कि भारत और जापान समेत 13 देशों ने इसमें हस्ताक्षर किए हैं। बाइडेन ने कहा कि यह समझौता क्षेत्र में हमारे करीबी दोस्तों और भागीदारों के साथ काम करने और आर्थिक प्रतिस्पर्धा सुनिश्चित करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चुनौतियों के साथ काम करने की प्रतिबद्धता है।

 

व्हाइट हाउस ने कहा है कि नया हिंद-प्रशांत व्यापार समझौता आपूर्ति शृंखला, डिजिटल व्यापार, स्वच्छ ऊर्जा, कर्मचारी सुरक्षा और भ्रष्टाचार निरोधी प्रयासों सहित विभिन्न मुद्दों पर अमेरिका और एशियाई अर्थव्यवस्थाओं की अधिक निकटता से काम करने में मदद करेगा।  यह बाइडेन प्रशासन द्वारा एक ऐसे क्षेत्र में अमेरिकी प्रभाव को संरक्षित करने और व्यापक बनाने की दिशा में उठाया गया नवीनतम कदम है, जहां हाल के वर्षों में चीन का दखल बढ़ा है।

 

अमेरिका-जापान संयुक्त बयान में  राष्ट्रपति जो बाइडन ने  कहा कि कल हम अपने साथी क्वाड पार्टनर्स आस्ट्रेलिया और भारत से मिलने जा रहे हैं। क्वाड दुनिया को दिखा रहा है कि लोकतांत्रिक देशों के बीच सहयोग से बड़े काम हो सकते हैं।  बाइडेन ने कहा कि  कोविड का जवाब देना और अधिक स्वास्थ्य सुरक्षा और मजबूत स्वास्थ्य प्रणाली का निर्माण भी भविष्य का हिस्सा है और जापान में हमारे नए सीडीसी क्षेत्रीय कार्यालय के साथ दुनिया को अगले महामारी के लिए तैयार करने में मदद करना है।

 

बाइडेन दक्षिण कोरिया और जापान की पांच दिवसीय यात्रा के मध्य पड़ाव में हैं। राष्ट्रपति बनने के बाद यह उनकी एशिया की पहली यात्रा है, जो मंगलवार को समाप्त होगी। व्हाइट हाउस ने अक्टूबर 2021 में ‘ट्रांस-पैसिफिक पार्टनरशिप' की जगह एक नए आर्थिक ढांचे के निर्माण की योजना की घोषणा की थी, जिसे अमेरिका ने 2017 में तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासन के दौरान रद्द कर दिया था। नया समझौता ऐसे समय में हो रहा है, जब अमेरिकी प्रशासन का मानना है कि चीन के साथ प्रतिस्पर्धा में उसे बढ़त हासिल है।

 

बता दें कि क्वाड समूह की बैठक 24 मई को होगी। सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए PM मोदी भी टोक्यो पहुंच चुके हैं। पीएम मोदी ने सोमवार को टोक्यो में एनईसी कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष डा. नोबुहिरो एंडो से मुलाकात की। भारत के दूरसंचार क्षेत्र में एनईसी की भूमिका की सराहना की और भारत में नई और उभरती प्रौद्योगिकियों में अवसरों पर चर्चा की।

 

 

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!