‘पार्टीगेट' मामलाः ब्रिटिश प्रधानमंत्री जॉनसन पर लटकी अविश्वास प्रस्ताव की तलवार

Edited By Tanuja, Updated: 06 Jun, 2022 05:14 PM

british pm boris johnson forced to explain actions in partygate row

विवादों में घिरे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ‘पार्टीगेट'' मामले को लेकर सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव का सामने करेंगे। कंजरवेटिव पार्टी की एक समिति...

लंदनः विवादों में घिरे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ‘पार्टीगेट' मामले को लेकर सोमवार को अविश्वास प्रस्ताव का सामने करेंगे। कंजरवेटिव पार्टी की एक समिति के अध्यक्ष ने इसकी घोषणा की। ‘पार्टीगेट' मामले से जुड़ी नई जानकारियों के सामने आने के कुछ दिन बाद यह कदम उठाया जा रहा है। समिति द्वारा प्राप्त अविश्वास संबंधी पत्रों के प्रभारी सर ग्राहम ब्रैडी ने बताया कि ‘टोरी' संसदीय दल के 54 सांसद (15 प्रतिशत) इसकी मांग कर रहे हैं और सोमवार शाम ‘हाउस ऑफ कॉमन्स' में इसे रखा जाएगा।

 

अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान सत्तारूढ़ कंजर्वेटिव पार्टी के भीतर कई हफ्तों से जारी गतिरोध के बाद हो रहा है। कई सांसदों और पूर्व मंत्रियों ने डाउनिंग स्ट्रीट पर कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करते हुए गैरकानूनी तरीके से पार्टी आयोजित करने को लेकर चिंता व्यक्त की है। ब्रैडी ने एक बयान में कहा, ‘‘ अविश्वास मत के लिए संसदीय दल के आवश्यक 15 प्रतिशत वोट हासिल कर लिए गए हैं ।'' उन्होंने कहा, ‘‘ नियमों के अनुसार, आज सोमवार छह जून को शाम छह बजे से रात आठ बजे (स्थानीय समयानुसार) के बीच मतदान होगा, इस संबंध में विस्तृत जानकारी साझा की जाएगी। मतदान के तुरंत बाद ही उनकी गिनती की जाएगी।

 

सुझाव के अनुसार नतीजों की घोषणा की जाएगी। आज दिन में इस संबंध में जानकारी साझा की जाएगी।'' विश्लेषकों के अनुसार, जॉनसन (57) के वोट जीतने की संभावना है, लेकिन यह उनके नेतृत्व को एक बड़ा झटका जरूर देगा। पार्टी के नेता और प्रधानमंत्री पद से जॉनसन को हटाने के लिए विद्रोही सांसदों को 180 वोट की आवश्यकता होगी। कंजरवेटिव पार्टी के मौजूदा नियमों के तहत, अगर जॉनसन जीत जाते हैं, तो वह कम से कम 12 महीने तक इस तरह के किसी अन्य अविश्वास प्रस्ताव का सामना नहीं करेंगे। मंत्रिमंडल अभी तक एकजुटता से जॉनसन के साथ खड़ा है, जिसमें ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज़ ट्रस भी शामिल हैं।

 

गौरतलब है कि डाउनिंग स्ट्रीट (प्रधानमंत्री आवास) में जून 2020 में आयोजित एक जन्मदिन पार्टी में कोविड-19 लॉकडाउन संबंधी नियमों के उल्लंघन के आरोप को लेकर 40 से अधिक सांसदों ने जॉनसन के इस्तीफे की मांग की है। मामला लंबे समय से चर्चा में बना हुआ है और शीर्ष सिविल सेवक सू ग्रे के नेतृत्व में की गई जांच की विफलताओं को लेकर भी कई सवाल उठाए गए हैं। स्कॉटलैंड यार्ड जांच के बाद जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि कोरोना वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए 2020-2021 के लॉकडाउन के दौरान सरकारी कार्यालयों के भीतर दलों ने नियमों का उल्लंघन किया। जॉनसन और उनकी पत्नी कैरी पर जून 2020 में डाउनिंग स्ट्रीट के कैबिनेट रूम में लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करते हुए जन्मदिन की पार्टी आयोजित करने के लिए जुर्माना भी लगाया गया था। 

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!