रूसी सेना के लिए काल बनकर आई यूक्रेनी बकरी, इस तरह 40 सैनिकों को 'उड़ाया'

Edited By Tanuja,Updated: 29 Jun, 2022 10:39 AM

chaotic  goat of kyiv  leaves 40 russian soldiers injured

रूस की तरफ से यूक्रेन के शहरों में  हमले जारी हैं  यूक्रेनी सैनिक इन हमलों का जवाब भी दे रहे हैं।  इन सबके बीच यूक्रेन की एक बकरी की...

इंटरनेशनल डेस्कः रूस की तरफ से यूक्रेन के शहरों में  हमले जारी हैं  यूक्रेनी सैनिक इन हमलों का जवाब भी दे रहे हैं।  इन सबके बीच यूक्रेन की एक बकरी की खूब चर्चा हो रही है, जिसकी वजह से रूस के 40 सैनिक बुरी तरह से घायल हो गए हैं। सोशल मीडिया पर इस बकरी को ‘गोट ऑफ कीव’ कहा जा रहा है।   यह यूक्रेन के खुफिया पायलट ‘घोस्ट ऑफ कीव’ की याद दिलाता है, जिसने युद्ध के दौरान कई रूसी विमानों को मार गिराया था। यह बकरी पहली जानवर नहीं है कि जिसनें इस भीषण युद्ध में यूक्रेन की मदद की है।  इससे पहले  एक जैक रसल कुत्ते ने लड़ाई के दौरान 200 से अधिक विस्फोटों को सूंघकर खोजने में यूक्रेनी सैनिकों की मदद की थी।

 

डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक  रूस और यूक्रेन की जंग अब 5वें महीने में पहुंच चुकी है। इस बीच रूसी सैनिक दक्षिण-पूर्व यूक्रेन के ज़ापोरिज़िया ओब्लास्ट के किन्स्की रोज़डोरी गांव में एक ग्रेनेड का ट्रैप बिछा रहे थे। एक अस्पताल के चारों ओर ऐसे तारों को बिछाया जा रहा था । इस दौरान एक बकरी वहां पहुंच गई और बकरी के तारों से टकराने की वजह से ग्रेनेड फट गए। इस धमाके में कम से कम 40 सैनिक घायल हो गए।

 

यूक्रेन के मुख्य खुफिया निदेशालय ने बताया कि बकरी की गतिविधियों से कई ग्रेनेड फटकर खत्म हो गए। निदेशालय ने अपने बयान में कहा कि धमाकों की वजह से पुतिन के सैनिकों को अलग-अलग स्तर की कई चोटें आई हैं । हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इसमें बकरी जीवित बची या नहीं। यूक्रेन का दावा है कि 24 फरवरी और 21 जून के बीच यूक्रेनी सेना ने रूस के करीब 34,100 सैनिकों को मारा है।  मंगलवार को ही यूक्रेनी सेना ने 26 रूसी सैनिकों को मार गिराया। रूसी सैनिकों ने खार्किव के इंडस्ट्रियल्नी जिले में गोलाबारी की, जिसमें करीब 7 नागरिक घायल हो गए।  

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!