बांग्लादेश में बाढ़ का कहरः अब तक 32 की मौत और 90 लाख लोग हुए बेघर

Edited By Tanuja, Updated: 21 Jun, 2022 04:40 PM

dozens dead thousands homeless in bangladesh flood

मॉनसूनी तूफान और लगातार बारिश ने पूरे बांग्लादेश को अपनी चपेट में ले लिया है। यहां स्थिति भयावह बनी हुई है। बाढ़ से अब तक 32 लोगों...

इंटरनेशनल डेस्कः  मॉनसूनी तूफान और लगातार बारिश ने पूरे बांग्लादेश को अपनी चपेट में ले लिया है। यहां स्थिति भयावह बनी हुई है। बाढ़ से अब तक 32 लोगों की मौत हो चुकी है। बाढ़ और संपत्ति के विनाश के कारण 90 लाख लोग बेघर हो गए हैं। बांग्लादेश की सेना स्थानीय अधिकारियों के साथ बचाव और राहत कार्यों में लगी हुई है। बांग्लादेश में बाढ़ का प्रकोप सोमवार को भी जारी रहा और अधिकारियों को देश के विशाल उत्तरी और पूर्वोत्तर क्षेत्रों में बाढ़ के कारण बने आश्रय स्थलों में पेयजल और सूखे खाद्य पदार्थ पहुंचाने में मुश्किल आई। अधिकारियों और स्थानीय मीडिया ने यह जानकारी दी।

PunjabKesaria

बांग्लादेश और भारत के पूर्वोत्तर राज्यों में पिछले हफ्ते से लगातार बारिश हो रही है, जिससे देश के कई हिस्सों में बाढ़ आ गई है। आपदा प्रबंधन और राहत राज्य मंत्री इनामुर रहमान ने कहा कि मेघालय और असम में भारी बारिश के कारण बांग्लादेश में भीषण बाढ़ आई है। उन्होंने कहा कि सिलहट और सुनामगंज जिलों में 122 साल में यह सबसे भीषण बाढ़ है। अधिकारियों ने बताया कि पिछले सप्ताह मानसून शुरू होने के बाद से देश भर में एक दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गई। सरकार ने लोगों को निकालने में मदद के लिए शुक्रवार को सेना की मदद ली।

PunjabKesari

एकट्टॅर टीवी स्टेशन ने बताया कि लाखों लोग बिजली आपूर्ति से वंचित हैं। समाचार एजेंसी ‘यूनाइटेड न्यूज ऑफ बांग्लादेश' के अनुसार, आपदा और राहत मामलों के कनिष्ठ मंत्री इनामुर रहमान ने कहा कि सबसे ज्यादा प्रभावित सुनामगंज और सिलहट जिलों में 100,000 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है और लगभग 40 लाख लोग इस क्षेत्र में फंसे हुए हैं। देश की राजधानी ढाका में देश के बाढ़ पूर्वानुमान और चेतावनी केंद्र से रविवार को ताजा बयान में कहा गया है कि उत्तरपूर्वी जिलों सुनामगंज और सिलहट में बाढ़ की स्थिति अगले 24 घंटों में और खराब हो सकती है।  

PunjabKesari

गैर-लाभकारी विकास संगठन बीआरएसी के एक वरिष्ठ निदेशक अरिंजॉय धर ने ऑनलाइन पोस्ट किए गए एक वीडियो में बाढ़ प्रभावितों के लिए खाद्य सामग्री वितरण सुनिश्चित करने में मदद मांगी। धर ने कहा कि उन्होंने सुनामगंज जिले में 5,000 परिवारों को खिलाने की योजना के तहत खाद्य सामग्री तैयार करने के लिए सोमवार को एक केंद्र खोला, लेकिन यह व्यवस्था पर्याप्त नहीं है। बीआरएसी ने कहा कि वह अकेले आपातकालीन आपूर्ति के साथ लगभग 52,000 परिवारों तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। देश में अचानक आई बाढ़ से उबरने के साथ ही भारी मानसूनी बारिश के बीच शुक्रवार से आई ताजा बाढ़ ने बांग्लादेश को तबाह कर दिया है।  

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!