SCS पर फिलीपींस की चीन को चेतावनी- किसी विदेशी ताकत को एक भी इंच नहीं देगें

Edited By Tanuja,Updated: 20 Nov, 2023 03:39 PM

marcos says china showing interest in scs closer to philippines

दक्षिण चीन सागर को लेकर फिलीपींस और चीन के बीच तनाव अधिक गंभीर हो गया है । चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच फिलीपींस के...

इंटरनेशनल डेस्कः  दक्षिण चीन सागर को लेकर  फिलीपींस और चीन के बीच तनाव अधिक गंभीर हो गया है । चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच फिलीपींस के राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस ने चीन को फिर चेतावनी दी कि फिलीपींस हमारे क्षेत्र का एक भी वर्ग इंच किसी विदेशी ताकत को नहीं देगा। वहीं अमेरिका का कहना है कि चीन ने इस क्षेत्र में बनाए गए कई द्वीपों का सैन्यीकरण किया है। बता दें कि पहले ही कई देश इस क्षेत्र पर अपना दावा करते आ रहे हैं।

 

राष्ट्रपति मार्कोस जूनियर ने दावा किया है कि चीन ने एटोल और शोल तट के लिए अपनी रुचि दिखाई है, जो कि फिलीपींस के तट के बेहद करीब है। इससे स्थिति सुधरने के बजाय और खराब होती जा रही है। सैन फ्रांसिस्को में एक क्षेत्रीय शिखर बैठक से लौटते हुए फिलीपींस के राष्ट्रपति ने अमेरिकी सैन्य नेताओं और स्थानीय फिलिपिनो समुदाय से मुलाकात की। इस यात्रा का मार्कोस जूनियर को भू-राजनीतिक और व्यक्तिगत महत्व दोनों हासिल हुआ है। उनकी यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब अमेरिका और फिलीपींस अपने लंबे समय से चले आ रहे गठबंधन को मजबूत कर रहे हैं।

 

बता दें कि चीन लगभग पूरे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता आ रहा है। वहीं, फिलीपींस और चार अन्य सरकारों के दावों को स्वीकार करने से इंकार करता है। समुद्री कानून पर संयुक्त राष्ट्र कन्वेंशन के तहत चीन के व्यापक ऐतिहासिक दावों को अमान्य करने के बावजूद बीजिंग ने इस मध्यस्थता को पूरी तरह से मानने से खारिज कर दिया। मार्कोस ने दोहराया कि उनका देश झुकेगा नहीं। उन्होंने अपने भाषण में कहा, 'फिलीपींस हमारे क्षेत्र का एक भी इंच किसी विदेशी ताकत को नहीं देगा। वहीं, अमेरिका का कहना है कि चीन ने इस क्षेत्र में बनाए गए कई द्वीपों का सैन्यीकरण किया है, उन्हें जहाज-रोधी और विमान-रोधी मिसाइल प्रणालियों, लेजर और जैमिंग उपकरण और लड़ाकू विमानों से लैस किया है।
 

Related Story

India

201/4

41.2

Australia

199/10

49.3

India win by 6 wickets

RR 4.88
img title
img title

Be on the top of everything happening around the world.

Try Premium Service.

Subscribe Now!