ब्रिटिश क्वीन एलिजाबेथ के राजगद्दी पर 70 साल पूरे, सड़कों पर उतरा गया 260 साल पुराना सोने का रथ, देखें तस्वीरें

Edited By Tanuja, Updated: 04 Jun, 2022 11:55 AM

queen elizabeth s 70 years on the british throne

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के सत्ता में 70 साल पूरे करने पर देश में जश्न का माहौल है । एलिजाबेथ जब महज 25 वर्ष की थीं तब उनकी ताजपोशी...

लंदनः ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के सत्ता में 70 साल पूरे करने पर देश में जश्न का माहौल है । एलिजाबेथ जब महज 25 वर्ष की थीं तब उनकी ताजपोशी की गई थी। वह इस गद्दी को सबसे ज्यादा वक्त तक संभालने वाली हस्ती हैं और सात दशक से इस पद पर काबिज हैं। इस उपलक्ष्य में में चार दिनों का प्लैटिनम जुबली समारोह मनाया जा रहा है। एलिजाबेथ द्वितीय 96 वर्ष की हैं और वह सार्वजनिक कार्यक्रमों में कम ही दिखाई देती हैं। 

PunjabKesari

जश्न के इस अवसर पर अद्भुत कलाकृतियों वाला एक कोच जो  ऐतिहासिक कला का चलता-फिरता नमूना है, सड़कों पर उतारा गया। यह जितना बाहर से खूबसूरत  है उतना ही खूबसूरत भीतर से भी है जिसे बनाने में मखमल और साटन के कपड़े का इस्तेमाल किया गया है। ब्रिटिश राजशाही की वेबसाइट के अनुसार झांकी के दौरान महारानी खुद इस रथ पर सवार नहीं होंगी। इसके बजाय जिस दिन उन्हें ताज पहनाया गया था उस दिन की फुटेज गाड़ी की खिड़कियों पर प्रोजेक्टर के माध्यम से दिखाई जाएगी।  

PunjabKesari

इस रथ को बनने में दो साल लगे थे और 1762 में इसका निर्माण पूरा हुआ था। गोल्ड स्टेट कोच ब्रिटेन में तीसरा सबसे पुराना कोच है जो अभी भी अस्तित्व में है। यह लकड़ी का बना है जिस पर सोने की परत चढ़ी हुई है।  यह सात मीटर लंबा है और इसका वजन चार टन है और यह 3.6 मीटर ऊंचा है। वजन और सस्पेंशन के कारण इसका इस्तेमाल सिर्फ चलने की गति से ही किया जाता है।

PunjabKesari

सदियों के रखरखाव के कारण इस भव्य रथ पर सोने की कम से कम सात परतें चढ़ चुकी हैं। किंग जॉर्ज थर्ड के वास्तु सलाहकार सर विलियम चेम्बर्स ने इसे डिजाइन किया और कोचमेकर सैमुअल बटलर ने बनाया था। इस रथ को खींचने के लिए आठ घोड़ों की जरूरत पड़ती है। कोच पर उकेरी गई हर कला ब्रिटेन के इतिहास को श्रद्धांजलि देती है।

PunjabKesari

Related Story

Trending Topics

Ireland

221/5

20.0

India

225/7

20.0

India win by 4 runs

RR 11.05
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!