अमेरिका में गर्भपात अब संवैधानिक अधिकार नहीं, पढ़ें विदेश की 10 बड़ी खबरें

Edited By Yaspal,Updated: 25 Jun, 2022 07:28 AM

read 10 big news from abroad

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को गर्भपात के अधिकार को मिली संवैधानिक सुरक्षा खत्म कर दी है। अदालत ने 49 साल पुराने रो वी वेड केस में दिए गए फैसले को पलट दिया। इस केस में गर्भपात के अधिकार को सुरक्षा दी गई थी। नए आदेश के मुताबिक, अब राज्य खुद इस...

इंटरनेशनल डेस्कः अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को गर्भपात के अधिकार को मिली संवैधानिक सुरक्षा खत्म कर दी है। अदालत ने 49 साल पुराने रो वी वेड केस में दिए गए फैसले को पलट दिया। इस केस में गर्भपात के अधिकार को सुरक्षा दी गई थी। नए आदेश के मुताबिक, अब राज्य खुद इस प्रॉसेस को खत्म कर सकते हैं या फिर इसकी इजाजत दे सकते हैं।माना जा रहा है कि अदालत के इस फैसले के बाद अमेरिका के करीब आधे राज्यों में गर्भपात पर प्रतिबंध लग जाएगा, जहां रिपब्लिकन पार्टी रूल कर रही है।

महिलाओं के हितों की रक्षा करेंगे- बाइडन
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने शुक्रवार को कहा कि वह उन राज्यों में गर्भपात संबंधी नियमों के मद्देनजर महिलाओं के अधिकारों के संरक्षण के लिए अपनी ‘‘क्षमतानुसार'' हरसंभव प्रयास करेंगे, जहां इन्हें प्रतिबंधित किया जाएगा। उच्चतम न्यायालय द्वारा गर्भपात के लिए संवैधानिक सुरक्षा को खत्म करने के बाद बाइडन का यह बयान सामने आया है। अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट ने कई साल पहले रो बनाम वेड मामले में दिए गए फैसले को पलटते हुए गर्भपात के लिए संवैधानिक संरक्षण को समाप्त कर दिया है।

पाकिस्तान ने आतंकी साजिद मीर की गिरफ्तारी का दावा किया
पाकिस्तान ने 26/11 मुंबई अटैक के आरोपी लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी साजिद मीर को अरेस्ट करने का दावा किया है। हमले के 13 साल से भी ज्यादा वक्त के बाद पाकिस्तान का ये ऐलान इसलिए भी शक के घेरे में है, क्योंकि पाकिस्तान ने ही पहले उसकी देश में मौजूदगी से इनकार किया था। साजिद मीर मुंबई हमले के दोषी डेविड कोलमैन हेडली का हैंडलर था।
 

कोरोना वैक्सीन से बची 42 लाख से ज्यादा भारतीयों की जान
कोरोना वायरस महामारी से बचाव के लिए बनाई गई वैक्सीन  भारत के साथ-साथ अन्य देशों के लिए संजीवनी साबित हुई है। इस वैक्सीन ने भारत में जहां 42 लाख से अधिक लोगों की जान बचाई है। वहीं, पूरी दुनिया में दो करोड़ से अधिक लोगों को मौत के मुंह में जाने से रोका है। Lancet study (The Lancet Infectious Diseases journal) जर्नल के दिसंबर 2020 से दिसंबर 2021 तक के आंकड़ों में यह बात सामने आई है।

यूक्रेन में स्पलाई चेन बंद करना चाहता है रूस
गुरुवार को यूक्रेन-रूस युद्ध पांचवे महीने में पहुंच चुका है। बीते चार महीने में रूस ने यूक्रेनी शहरों में दिल दिहलाने वाली तबाही बरपाई है। ऊंची-ऊंची इमरातों और रोशनी से पटे रहने वाले शहर खंडहर हो चुके हैं। करोड़ों लोग अपना घर छोड़कर पलायन कर चुके हैं।

पाकिस्तान में कागज का बड़ा संकट
पाकिस्तान पेपर एसोसिएशन ने चेतावनी दी है कि देश में पेपर संकट के कारण अगस्त 2022 से शुरू होने वाले नए शैक्षणिक वर्ष में छात्रों को किताबें उपलब्ध नहीं होंगी। कागज संकट का कारण वैश्विक मुद्रास्फीति और सरकारों की गलत नीतियों और स्थानीय कागज उद्योगों के एकाधिकार के कारण माना जा रहा है। ऑल पाकिस्तान पेपर मर्चेंट एसोसिएशन, पाकिस्तान एसोसिएशन ऑफ प्रिंटिंग ग्राफिक आर्ट इंडस्ट्री (PAPGAI) और पेपर उद्योग से जुड़े अन्य संगठनों ने देश के प्रमुख अर्थशास्त्री डॉ. कैसर बंगाली के साथ एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने चेतावनी दी कि अगस्त से शुरू हो रहे नए शैक्षणिक वर्ष में पेपर संकट के कारण छात्रों को किताबें उपलब्ध नहीं होंगी।

पाकिस्तान ने तुर्की के साथ मिलकर भारत के खिलाफ फिर उगला जहर
पाकिस्तान के राष्ट्रपति डॉ आरिफ अल्वी ने इस्लामोफोबिया को लेकर एक बार फिर भारत के खिलाफ जहर उगला  है। उन्होंने पाकिस्तान में तुर्की के राजदूत एहसान मुस्तफा युरदकुल से बात करते हुए कहा कि दुनियाभर में, खासकर भारत में इस्लामोफोबिया बढ़ रहा है। पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने कहा कि भारत में धार्मिक अल्पसंख्यकों, खासकर मुसलमानों को जबरन डराया-धमकाया जा रहा है, उनके घरों और मस्जिदों को तोड़ा जा रहा है और उनके धार्मिक प्रतीकों और पवित्र व्यक्तित्वों का उपहास किया जा रहा, उनका अपमान किया जा रहा है।

नेपाल ने अमेरिका को दिया झटका
नेपाल ने अमेरिका के सैन्य और सुरक्षा से जुड़े प्रोग्राम स्टेट पार्टनरशिप प्रोग्राम (SPP) में सहयोग करने से मना कर दिया है। अमेरिका का साथ न देने के नेपाल के इस फैसले से चीन काफी खुश है और उसने कहा है कि वो नेपाल सरकार के फैसले का स्वागत करता है। चीन का कहना है कि वो नेपाल के स्वतंत्र विदेश नीति का समर्थन करना जारी रखेगा।

ब्रिटेन में चार दशक बाद मिला पोलियो का वायरस
मीडिया में शुक्रवार को प्रकाशित खबरों के मुताबिक ब्रिटेन की राजधानी लंदन में चार दशक में पहली बार पोलिया का वायरस मिलने के बाद पाकिस्तान का पोलियो टीकाकरण अभियान आशंकाओं के साए में आ गया है। ब्रिटेन की स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी ने रेखांकित किया है कि गुरुवार को लंदन में जिस पोलियो वायरस की जानकारी मिली है वह संभवत: कुछ देशों से आया है। इसके साथ ही एजेंसी ने अभिभावकों को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उनके बच्चों का इस बीमारी से बचाव के लिए पूर्ण टीकाकरण हो।

अल जजीरा के पत्रकार की मौत के मामले में इजराइल पर UN उठाई उंगली
संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय ने शुक्रवार को कहा कि अल जजीरा की वरिष्ठ संवाददाता शिरीन अबू अक्लेह और उनके साथियों पर इजराइली सैनिकों की ओर से ‘‘सोच-समझकर लक्षित करके गोलियां'' चलायी गयी थीं और उसने पत्रकार की पिछले महीने हुई हत्या की आपराधिक जांच कराने का अनुरोध किया। प्रतिष्ठित फलस्तीनी-अमेरिकी रिपोर्टर अबू अक्लेह को वेस्ट बैंक के जेनिन शहर में इजराइली सेना के हमले को कवर करते हुए 11 मई को गोली मारी गयी थी, जिसमें उनकी मौत हो गयी थी। 

 

Related Story

West Indies

137/10

26.0

India

225/3

36.0

India win by 119 runs (DLS Method)

RR 5.27
img title img title

Everyday news at your fingertips

Try the premium service

Subscribe Now!